अब फिर प्रशासन ने भरी हुंकार 17 अप्रैल को अतिक्रमणकारियों पर गरजेगा सरकारी बुलडोजर - प्रशासन


जौनपुर। जिले के शहर के सुन्दरीकरण और अतिक्रमण मुक्त कर जाम की समस्या से निजात दिलाने के लिए प्रशासन ने कमर कसते हुए अतिक्रमण कर्ताओ पर बुलडोजर चलाने का निर्णय लेते हुए एलान किया लेकिन फिर अचानक बुलडोजर को रोक दिया गया लेकिन एक बार फिर प्रशासन की ओर से बुलडोजर चलाने का ऐलान करते हुए कहा गया है कि अगर सब कुछ ठीकठाक रहा तो 17 अप्रैल को जेसीज चौराहे से लेकर ओलंदगंज तक बुलडोजर गरजेगा। 
जिला प्रशासन की ओर से इस मार्ग पर अतिक्रमण करने वाले 51 अतिक्रमणकर्ताओं को नोटिस दिया गया है। अतिक्रमणकर्ताओं से खुद अतिक्रमण हटा लेने को कहा गया है ऐसा नहीं करने पर प्रशासन की ओर से अतिक्रमण हटाए जाने पर आने वाले खर्च को अतिक्रमणकर्ताओं से वसूल करने की बात कही गई है।इसे लेकर अतिक्रमण करने वालों में हड़कंप मचा हुआ है। इतना ही नहीं, प्रशासन ने रास्ते से अतिक्रमण हटा लेने की घोषणा भी कराई है। प्रशासन बीते रविवार को ही बुलडोजर चलाने की तिथि निर्धारित किया था लेकिन लोंगो की मांग पर खुद नाप करा कर अतिक्रमण हटाने के लिए तीन दिन का समय दिया था। किसी अतिक्रमण कर्ता ने ध्यान नहीं दिया अब फिर प्रशासन ने 17 अप्रैल की तिथि निर्धारित किया है। 
यहां बता दे कि लगभग तीन लाख से अधिक आबादी वाले जौनपुर शहर की खूबसूरती में अतिक्रमण करने वालो ने बट्टा लगा रखा हैं, इसे लेकर प्रशासन अब गंभीर हो चुका है। शहर के प्रमुख चौराहा में शुमार जेसीज से लेकर ओलंदगंज तक अतिक्रमण हटाने की तैयारी कर ली है। इस मार्ग पर दोनों तरफ कोई सीढ़ी तो कोई करकट और जनरेटर सहित अन्य निर्माण कर अतिक्रमण कर लिया है, जिससे रोज यह मार्ग जाम की जद में रहता है। जिसके चलते यातायात व्यवस्था खासा प्रभावित होती है। इस मार्ग पर से अतिक्रमण हटाने के लिए बीते दिनों जिला प्रशासन ने नापी भी कराया था पीडब्ल्यूडी व तहसील कर्मचारियों ने सड़क के दोनों तरफ निशान भी लगा दिया। इसके अलावा प्रशासन ने चिह्नित 51 अतिक्रमणकारियों को नोटिस भी भेज दिया है। नोटिस मिलने के बाद अतिक्रमणकारियों में हड़कंप मचा हुआ है। कई अतिक्रमणकारी अपना अतिक्रमण तो स्वयं हटा रहे हैं, लेकिन कई अतिक्रमण कारी अभी भी उसी तरह सामान आदि रख कर अतिक्रमण किए हुए हैं। उनकी ओर से अतिक्रमण नहीं हटाया जा रहा है।
अपर जिलाधिकारी भू-राजस्व के अनुसार 17 अप्रैल को जेसीज से लेकर ओलंदगंज तक अतिक्रमण हटवाने का कार्य किया जाएगा। 51अतिक्रमणकर्ताओं को चिह्नित कर नोटिस भेजा गया है। उनको स्वयं अतिक्रमण हटाने के लिए कहा गया है ऐसा नहीं करने पर प्रशासन की ओर से हटाए जाने पर आने वाले खर्च को उनसे वसूले जायेगे। 

टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

जौनपुर का बेटा बना यूनिवर्सिटी आफ टोक्यो जापान में प्रोफ़ेसर, लगा बधाईयों का तांता

इलाहाबाद हाईकोर्ट का ग्रामसभा की जमीन को लेकर डीएम जौनपुर को जानें क्या दिया आदेश

यूपी में फिर 11 आईएएस अधिकारियों का तबादला, देखे सूची