सास से नाराज होकर बहू ने नहर की तेज धारा में लगाई छलांग, हुई मौत

जौनपुर। जनपद के थाना सरपतहाँ क्षेत्र स्थित 
सुइथाखुर्द गांव में दीपक जलाने को लेकर सास से हुई कहासुनी के बाद दूसरे दिन बुधवार की भोर में परदेश में रह रहे पति और अपनी माता से मोबाइल फोन पर वार्ता करने के बाद एक विवाहिता ने शारदा सहायक नहर में कूद कर अपनी जीवन लीला को खत्म कर लिया है। मौके पर पहुंची पुलिस और ग्रामीणों ने पानी के बहाव की तरफ लगभग एक किमी आगे तक जाकर देखा। लेकिन शव दिखाई नहीं दिया। पिलकिछा गांव से गोताखोर बुलाकर शव की तलाश करायी जा रही है। घाट के पास से विवाहिता का मोबाइल और चप्पल बरामद किया गया। दोपहर बाद लगभग दो बजे शव को बरामद कर लिया गया।
मिली खबर के अनुसार सुइथाखुर्द गांव निवासी संजय गुप्ता रोजी रोजगार के चक्कर में बिहार के छपरा शहर में रह रहता हैं। घर पर उसकी 28 वर्षीय पत्नी मीनू गुप्ता अपने दो बच्चों, पांच वर्षीय पुत्र पियांशू और दो वर्षीय पुत्री मान्या के साथ रहती थी। संजय के पिता वर्षों पूर्व गुजर चुके है। विधवाा मां अपने छोटे पुत्र के साथ रह रही है। स्वजनों का कहना है कि मंगलवार की शाम मीनू के घर अंधेरा देख उसकी सास ने उसे दीपक जलाने को कह दिया। जिसको लेकर सास- बहू में विवाद हो गया। बाद में मामला शांत हो गया।
दूसरे दिन बुधवार की भोर मीनू अपने दोनों बच्चों को सोता हुआ छोड़कर नहर के किनारे पहुंच गई। वहीं बगल गांव के ही दो बालक शौच करने गये थे। पहले तो मीनू कुछ देर तक फोन पर बातचीत करती रही। फिर अचानक नहर के तेज बहाव में कूद गयी। जिसे देख दोनों बालक शोर मचाते गांव की तरफ भागे। उनकी आवाज सुन तमाम ग्रामीण नहर पर पहुंच उसकी तलाश करने लगे। घटना की सूचना पुलिस को दी गई। पुलिस ने घटनास्थल से मोबाइल फोन और चप्पल बरामद किया है। गोताखोरों की सहायता से शव की तलाश करायी गई तो दोपहर बाद शव बरामद हो गया। पुलिस शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम को भेजते हुए विधिक कार्यवाई की है।

टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

जानिए मुर्गा काटने के दुकान से कैसे मिला गुड्डू की लाश,पुलिस कर रही है जांच

बिजली विभाग बड़े बकायेदारो से बिल की वसूली कराये - डीएम जौनपुर

मंत्री गिरीश चन्द यादव का अखिलेश यादव पर जबरदस्त पलटवार,दे दिया केन्द्रीय मंत्री बनाने का आफर