जौनपुर के इस ब्लाक प्रमुख के पति सहित एक साथी पर मुकदमा दर्ज, गिरफ्तारी की मांग हुई तेज



जौनपुर। ब्लॉक प्रमुख के कक्ष में बुलाकर बड़े बाबू और खंड विकास अधिकारी के जीप चालक की पिटाई करने के मामले में पुलिस ने ब्लॉक प्रमुख रेखा यादव के पति कमलेश यादव सहित दो लोगों के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया है। प्रमुख के पति पर कार्यालय के जरूरी अभिलेख को नुकसान पहुंचाने, जान से मारने की धमकी देने का भी आरोप लगाया गया है।
मड़ियाहूं थाने में तहरीर देकर ब्लॉक के बड़े बाबू हरिश्चंद्र मौर्य ने आरोप लगाया कि वह कार्यालय में काम कर रहे थे तभी ब्लॉक प्रमुख रेखा यादव के पति कमलेश यादव ने अपने खास धीरज यादव के जरिए फोन करके प्रमुख कक्ष में बुलाया। वहां पहुंचने पर प्रमुख के पति ने तीन पत्रावलियां मंगाने को लेकर अपशब्द कहा। गाली-गलौज करते हुए कहा कि मेरे कहने के अनुसार काम करोगे या बीडीओ के कहने पर, तब हरिश्चंद्र ने जब बीडीओ का अधीनस्थ कर्मचारी होने का हवाला देकर बीडीओ के अनुसार काम करने की बात कही तो ब्लॉक प्रमुख के पति कमलेश यादव और उनके करीबी धीरज यादव उर्फ बाबा ने पिटाई करनी शुरू कर दी। कमलेश ने कट्टे के बट से भी वार किया। पीठ और अन्य हिस्से में मारकर जमीन पर गिरा दिए। इसी बीच मारपीट होते देख बीडीओ के जीप चालक भोला शर्मा पहुंचे तो कमलेश और धीरज ने मिलकर उनकी भी पिटाई कर दी। अन्य कर्मियों के बीच बचाव से किसी तरह वहां मामला शांत हुआ। हरिश्चंद्र ने कुछ पत्रावलियों को भी नुकसान पहुंचाने का आरोप लगाया। ऐसे में कोतवाली पुलिस ने कमलेश यादव और धीरज यादव निवासी मड़ियाहूं के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर लिया है।
इस संबंध में कोतवाली प्रभारी निरीक्षक ने बताया कि हरिश्चंद्र मौर्या की तहरीर पर ब्लॉक प्रमुख के पति कमलेश और एक अन्य व्यक्ति धीरज यादव उर्फ बाबा के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया गया। विगत बृहस्पतिवार को ब्लॉक परिसर में हुई मारपीट की घटना के बाद दोनों पक्ष थाने पर पहुंचा था। देर रात तक दोनों पक्षों के बीच सुलह समझौते की बात चलती रही। एक दूसरे पर किसी न किसी माध्यम से सुलह का दबाव बनाया जाता रहा। ब्लॉक प्रमुख का पक्ष सुलह का प्रयास भी किया, लेकिन सुलह नहीं हो सका। तो देर रात को तहरीर के आधार पर पुलिस ने मुकदमा दर्ज कर लिया गया है।
दूसरी ओर इस घटना को लेकर संयुक्त कर्मचारी परिषद के लोग भी जिलाध्यक्ष प्रदीप कुमार सिंह के नेतृत्व में प्रदर्शन कर चेतावनी भी दिये है कि अगर 13 फरवरी तक प्रमुख पति कमलेश यादव की गिरफ्तारी नहीं हुई तो जनपद में सभी विकास खंड कार्यालय और विकास भवन के कार्यालयो में काम ठप कर दिया जायेगा।

Comments

Popular posts from this blog

जौनपुर और मछलीशहर (सु) लोकसभा में जानें विधान सभा वारा मतदान का क्या रहा आंकड़ा,देखे चार्ट

मतगणना स्थल पर ईवीएम मशीन को लेकर हंगामा करने वाले दो सपाई सहित 50 के खिलाफ एफआईआर

आयोग और जिला प्रशासन के मत प्रतिशत आंकड़े में फिर मिला अन्तर