गोमाता जीवन और जीविका की आधार तथा सम्पूर्ण सृष्टि की है पालक- गुरू प्रसाद सिंह



पिंजरा पोल पशु अनाथालय (गौशाला) का शताब्दी समारोह एवं गोपाष्टमी धूमधाम से सम्पन्न

जौनपुर। अनादि काल से पूज्यनीय गोमाता, जीवन और जीविका की आधार एवं सम्पूर्ण सृष्टि की पालक हैं, आध्यात्मिक और सांस्कृतिक उन्नयन की कारक हैं। उक्त विचार पिंजरापोल पशु अनाथालय (गौशाला) ढालगर टोला के शताब्दी समारोह के अवसर पर आयोजित गोपाष्टमी महोत्सव एवं संगोष्ठी 'गोवंश की मानव जीवन में उपयोगिता' विषय पर मुख्यवक्ता के रूप में अपने विचार व्यक्त करते हुए प्रोफेसर गुरुप्रसाद सिंह( राष्ट्रीय अध्यक्ष-गोरक्षा विभाग, विश्व हिन्दू परिषद एवं निदेशक राष्ट्रीय दुग्ध विकास प्राधिकरण ) ने  कहा है। उन्होंने भारतीय संस्कृति में, कृषि में, औषधि में गोमाता के महत्व पर विस्तार से प्रकाश डाला।
मुख्यअतिथि रमेश चन्द्र मिश्र विधायक- बदलापुर ने  उत्तर प्रदेश शासन द्वारा संचालित गौशाला के उन्नयन एवं योजनाओं के बारे विस्तार से चर्चा करते हुए उपस्थित जनसमुदाय से गोपालन, गो-सेवा व गो-रक्षा का प्रण लेने का आवाह्न किया। 
समारोह में रामचन्द्र जी (प्रचारक - प्रमुख काशी प्रान्त राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ) सुरेन्द्र प्रताप सिंह (पूर्व विधायक) डा. क्षितिज शर्मा, नंदलाल यादव (सभासद) शशांक सिंह 'रानू' आदि ने गोवंश के संरक्षण एवं गौशाला की विकास पर अपने विचार व्यक्त किए। 
इससे पूर्व अतिथियों द्वारा गोमाता की पूजा एवं दीप प्रज्ज्वलन कर गौशाला के 'शुभ शताब्दी समारोह' का शुभारंभ किया गया। 
पिंजरा पोल पशु अनाथालय (गौशाला) समिति के सचिव श्याम मोहन अग्रवाल 'दीपू' ने अतिथियों एवं उपस्थित जनों का स्वागत करते हुए गौशाला की सौ वर्षों की यात्रा का क्रमवार विवरण प्रस्तुत करते हुए बताया कि 1923 में स्थापित यह गौशाला अपने सीमित संसाधनों एवं जनमानस के सहयोग से संचालित है। वर्तमान में इस गौशाला में 56 (छप्पन) गोवंश है जिसमें 16 (सोलह) गोवंश दुधारू हैं। उन्होंने सभी से अपने बच्चों के जन्मदिन, विवाह वर्षगांठ, पूर्वजों की पुण्यतिथि आदि अवसरों पर गौशाला आकर यथाशक्ति अपना सहयोग करें। 
पिंजरा पोल पशु अनाथालय (गौशाला) समिति के अध्यक्ष गोपालकृष्ण हरलालका एवं सचिव श्याममोहन अग्रवाल ने मंचासीन अतिथियों को अंगवस्त्रम् एवं स्मृतिचिन्ह तथा मुख्य अतिथि द्वारा गौशाला के सतत् विकास में समर्पित श्री दिनेश प्रकाश कपूर एवं गोपालकृष्ण हरलालका को अंगवस्त्रम् एवं स्मृतिचिन्ह प्रदान कर सम्मानित किया गया।
गौशाला समिति के अध्यक्ष गोपालकृष्ण हरलालका ने धन्यवाद ज्ञापित किया एवं कार्यक्रम का संचालन संजय कुमार सेठ 'ज़ेब्रा' ने किया एवं भजन गायक अवनींद्र तिवारी ने मनमोहक भजन प्रस्तुत किया।
समारोह में डा.रामसूरत मौर्य (अध्यक्ष प्रतिनिधि, नगर परिषद जौनपुर) विनय सिंह, अरविन्द उपाध्याय, डॉ.रजनीकांत द्विवेदी, संतोष त्रिपाठी, सुरेंद्र सिंहानिया, जीत प्रकाश हरलालका, किशन हरलालका,  सारिका सोनी, गौतम सोनी, नीरज शाह, आशीष गुप्त, उमापति केडिया, ओम् प्रकाश जायसवाल, शशिभूषण यादव, मनीष श्रीवास्तव, राजेश 'श्रीवास्तव बच्चा' आदि उपस्थित रहे।

Comments

Popular posts from this blog

पुलिस प्रशासन और दीवानी न्यायालय के न्यायिक अधिकारियों के बीच छिड़ी जंग, न्यायाधीश हुए सुरक्षा विहीन

मछलीशहर (सु) संसदीय क्षेत्र से सांसद बनने के लिए दावेदारो की जाने क्या है स्थित, कौन होगा पार्टी के लिए फायदेमंद