लगभग 12 दिनो बाद जलालपुर पुलिस ने डाक्टर टीडी सिंह पटेल के हत्याकाण्ड का किया खुलासा दो गिरफ्तार गये जेल



जौनपुर। थाना जलालपुर की पुलिस ने बाल रोग चिकित्सक डाॅ तिलकधारी पटेल के हत्याकाण्ड का खुलासा लगभग 12 दिनो बाद करते हुए दो अभियुक्तो महेश सोनकर एवं किशन सिंह को गिरफ्तार करने का दावा किया है और विधिक कार्यवाई करते हुए दोनो को जेल रवाना कर दिया है। उनके पास से एक पिस्टल, चार जिन्दा कारतूस,एक मोटरसाइकिल बरामद करने की बात पुलिस के अधिकारी कर रहे है।
इस संदर्भ में अपर पुलिस अधीक्षक नगर बृजेश कुमार गौतम ने घटना को लेकर मीडिया को जो कहांनी बताया है उसके अनुसार मृतक चिकित्सक टीडी सिंह पटेल और गिरफ्तार अभियुक्त किशन सिंह कथित बाल रोग चिकित्सक के बीच क्लीनिक को लेकर विवाद हुआ था। पहले दोनो एक साथ प्रैक्टिस करते थे। लेकिन कुछ समय बाद दोनो अलग अलग क्लीनिक खोल लिए थे तिलकधारी पटेल द्वारा किशन सिंह के खिलाफ अफवाह उड़ाया जा रहा था जिससे किशन की क्लीनिक नहीं चल रही थी। फिर किशन ने तिलकधारी पटेल के हत्या की योजना बनाकर पांच लाख रुपए की सुपारी अभियुक्त महेश सोनकर को दिया। तीन दिन तक रेकी करने के बाद 03 जनवरी 24 को तीन बदमाशो ने मिल कर चिकित्सक तिलकधारी पटेल को अर्ध रात्रि के बाद उसके क्लीनिक पर चढ़कर गोली मारकर मौत के घाट उतार दिया था। 
इस घटना के खुलासे में पुलिस ने सीसीटीवी फुटेज और सर्विलांस के जरिए हत्यारो को खोज निकाला है। हलांकि अभी प्लानर किशन सिंह पुत्र सुशील सिंह उर्फ बबलू निवासी ग्राम कसेरूपुरेदयाल थाना सुरेरी के मुख्य अभियुक्त महेश सोनकर पुत्र भोला सोनकर निवासी लालपुर थाना जलालपुर को गिरफ्तार कर असलहा और कारतूस मोटर साइकिल बरामद किया है। शेष दो अभियुक्तो की गिरफ्तारी जल्द होने का दावा किया है।
अपर पुलिस अधीक्षक नगर ने बताया कि प्रभारी निरीक्षक जलालपुर राजेश यादव मय हमराह के क्षेत्र में रवाना होकर संदिग्ध व्यक्ति वाहन की चेकिंग पतारसी सुरागरसी वांछित अभियुक्त मे मामूर थे कि जरिये मुखबिर सूचना प्राप्त हुई की डा0 तिलकधारी पटेल के हत्या में शामिल अभियुक्त महेश सोनकर पुत्र भोला सोनकर नि0 लालपुर थाना जलालपुर, सीतम सराय की तरफ से कुसिया नहर के रास्ते मोटर साइकिल से हाइवे की तरफ आ रहा है। इस सूचना पर विश्वास करके प्रभारी निरीक्षक मय पुलिस टीम के भवनाथपुर नहर पुलिया के पास से 14 जनवरी की रात्रि में एक अभियुक्त को पकड़ा जिसका नाम पता पूछते हुए जामातलाशी ली गयी तो अपना नाम महेश सोनकर पुत्र भोला सोनकर नि0 लालपुर थाना जलालपुर बताया जिसके कब्जे से एक पिस्टल मय चार जिन्दा कारतूस व एक मोटर साइकिल लूट की सुपर स्पलेण्डर काले कलर की बिना नेम प्लेट की बरामद हुई। तत्पश्चात् अभियुक्त महेश सोनकर के बताये अनुसार दरवेशपुर हाइवे पुल अण्डरपास से घटना के प्लानर अभियुक्त किशन सिंह पुत्र सुशील सिंह उर्फ बबलू नि0 कसेरूपुरेदयाल थाना सुरेरी (श्री कृष्णा बाल केयर चिकित्सालय, जलालपुर के संचालक) को गिरफ्तार किया गया। उक्त हत्या की घटना के सम्बन्ध में थाना स्थानीय पर पूर्व में मु0अ0सं0- 02/24 धारा 302/34 भादवि व 3/25 शस्त्र अधि0 का अभियोग पंजीकृत है । गिरफ्तारी व बरामदगी के मद्देनजर अग्रिम विधिक कार्यवाही की जा रही है । 
पूछताछ में अभियुक्त महेश सोनकर पुत्र भोला सोनकर नि0 लालपुर थाना जलालपुर ने घटना करने को स्वीकार करते हुए बताया कि मैं अपने दो अन्य साथियों के साथ मिलकर डाक्टर तिलकधारी पटेल को किशन सिंह पुत्र सुशील सिंह उर्फ बबलू नि0 कसेरूपूरेदयाल थाना सुरेरी, जो श्री कृष्णा बाल केयर चिकित्सालय के संचालक है उनके कहने पर उनसे 5 लाख रूपये में तय कर गोली मारकर हत्या किया है। घटना के पहले 20 हजार रूपये तथा घटना के बाद 25 हजार रूपया मिला था शेष पैसे लेने के बारे में बात करने के लिए आते समय पकड़ गया।  घटना के समय किशन सिंह भी हमलोगों के साथ मौजूद रहकर डाक्टर तिलकधारी पटेल के सोने वाले स्थान को बताया था । जिसके बाद हमलोगो ने घटना को अंजाम दिया था । 
किशन सिंह पुत्र सुशील सिंह हालपता- श्री कृष्णा बाल केयर चिकित्सालय जलालपुर ने बताया कि मेरा मृतक डा0 तिलकधारी पटेल से व्यापार सम्बन्धी विवाद था। डा0 तिलकधारी पटेल हमारे तथा हमारे हास्पिटल के विरूद्ध गलत- गलत अफवाह फैलाकर हमारा अस्पताल/व्यापार खराब कर रहे थे, जिसके कारण मेरा अस्पताल बिल्कुल नही चल रहा था मजबूर होकर मैने महेश सोनकर पुत्र भोला सोनकर नि0 लालपुर थाना जलालपुर, जौनपुर व उसके दो अन्य साथियों के साथ मिलकर 5 लाख रूपये में डा0 तिलकधारी पटेल की हत्या करने की बात हुई थी। घटना के समय मैं भी मौजूद था ।

Comments

Popular posts from this blog

पुलिस प्रशासन और दीवानी न्यायालय के न्यायिक अधिकारियों के बीच छिड़ी जंग, न्यायाधीश हुए सुरक्षा विहीन

मछलीशहर (सु) संसदीय क्षेत्र से सांसद बनने के लिए दावेदारो की जाने क्या है स्थित, कौन होगा पार्टी के लिए फायदेमंद