पूर्वांचल में आस्था की केंद्र शीतला चौकियां धाम में उमड़ा भक्तो का सैलाब,मंहगाई सातवें आसमान पर,पंडा और व्यापारी की नजर रही भक्तो की जेब पर



जौनपुर। जनपद मुख्यालय से लगभग तीन किमी दूर स्थित मां शीतला देवी चौकियां के धाम में आज 9 अप्रैल मंगलवार को वासंतिक नवरात्र के प्रथम दिन जहां मां के भक्तो का जन सैलाब उमड़ा हुआ था वहीं चौकियां धाम के पन्डा और व्यापारी मंहगाई को सातवें आसमान पर पहुंचाते हुए माता के भक्तो का आर्थिक दोहन और शोषण करने में तनिक भी संकोच नहीं किए है। इसके बाद भी भक्त अपनी पूरी श्रद्धा के साथ प्रातःकाल लगभग साढ़े चार बजे आरती के बाद से ही पूरे दिन तक लाइन लगाकर शीस नवाते नजर आए है।
इतना ही नहीं जिले के सभी देवियों के मन्दिर में श्रद्धालुओं की भीड़ रही। व्रती महिलाओं ने घर मे कलश स्थापना कर विधि विधान से मां शैलपुत्री गौरी का पूजन अर्चन किया। नवरात्रि के प्रथम दिन आस्था का केंद्र शीतला चौकिया धाम में लगभग 50 हजार के आसपास श्रद्धालुओं ने मत्था टेका। भक्तों ने नारियल-चुनरी लेकर मां देवी का पूजन अर्चन किया और मां का जयकारा लगाते रहे। शीतला चौकियां धाम में पूरे दिन घन्टो और घड़ियालो की आवाज से पूरा वातावरण गुंजायमान और  माहौल भक्तिमय बना रहा। इस दौरान माता रानी को लाल गुलाब, सफेद गुलाब, अढ़उल के लाल फूल, गेंदा का फूल चढ़ाया गया। सुरक्षा को दृष्टिगत रखते हुए पुलिस प्रशासन ने विशेष प्रबंध किया था चौकियां धाम सहित जिलेभर में 800 पुलिस बल देवी मंदिरों में तैनात किए गए।
शीतला चौकियां में प्रातः काल चार बजे मंदिर के कपाट खुलने के पश्चात मां शीतला माता का भव्य श्रृंगार कर विधि-विधान से आरती पूजन किया गया। मंदिर खुलने के पूर्व ब्रम्ह मुहूर्त से ही मां शीतला माता  के दर्शन के लिए हजारों श्रद्धालुओं की लंबी कतार लगी रही। दुर्गा सप्तशती पाठ वैदिक मंत्रोच्चारण हवन-पूजन माता रानी के जय जयकारों से सारा वातावरण मनमोहक भक्तिमय हो गया।  यहां बता दे कि आस्था के जन सैलाब को देखते हुए चौकियां धाम के सभी व्यापारी और पन्डा समाज के लोग माला फूल से लगायत नारियल चुनरी रामदाना सहित छोटे बड़े सभी सामान तथा खाने पीने की सामग्री के मुल्य को सातवें स्थान पर पहुंचा दिया था। मां के भक्तो की जेब पर खुले आम डकैती डालने का काम मां के दरबार में किया जाना सरकारी तंत्र की व्यवस्था पर सवालिया निशान लगा रहा है। आखिर प्रशासन ने मुल्यो को नियंत्रित रखने की कोई व्यवस्था क्यों नहीं कर सका था। सब कुछ के बावजूद मां के भक्त बड़ी तादाद में दर्शन पूजन किये।

Comments

Popular posts from this blog

मछलीशहर (सु) लोकसभा में सवर्ण मतदाताओ की नाराजगी भाजपा के लिए बनी बड़ी समस्या,क्या होगा परिणाम?

स्वामी प्रसाद मौर्य के कार्यालय में तोड़फोड़ गोली भी चलने की खबर, पुलिस जांच पड़ताल में जुटी

लोकसभा चुनाव के लिए सायंकाल पांच बजे तक मतदान का प्रतिशत यह रहा