बसपा नेता ने रवि किशन को लेकर जानें क्यों कहा नाचते गाते थे तब रवि किशन थे, नेता बनते ही रवि किशन शुक्ला हो गये ?


उत्तर प्रदेश में विधानसभा चुनावों के करीब आने के साथ ही राजनीतिक दलों ने अपनी तैयारियां शुरू कर दी हैं। सबसे पहले बहुजन समाज पार्टी (बसपा) सुप्रीमो मायावती ने हाल ही में घोषणा की थी कि उनके नेता अयोध्या से ब्राह्मणों के लिए कार्यक्रम आयोजित करने के साथ चुनावी अभियान शुरू करेंगे। इसी के बाद से यूपी में जातिवाद का मुद्दा एक बार फिर गरम हो गया। एक टीवी डिबेट के दौरान जब एंकर ने इसे लेकर बसपा नेता एमएच खान से सवाल किया, तो उन्होंने भाजपा नेता रवि किशन पर धावा बोल दिया। खान ने रवि किशन को नाचने-गाने वाला से लेकर गोरखपुर में उनके खुद को ब्राह्मण बताने पर भी सवाल खड़े कर दिए।
बसपा नेता के इन हमलों पर एंकर ने मायावती के ब्राह्मणों को मनाने वाले बयानों का जिक्र करते हुए कहा, “आप भी जब अयोध्या में जाकर कहेंगे कि पंडित जी को वोट दीजिए और हम आपके लिए ये करेंगे, तो मुद्दे को तो गौण कर दिया न आपने जातिवाद की आड़ में। जिसको आप नाचने-गाने वाला बता रहे हैं, उत्तर प्रदेश में वो सबसे ज्यादा वोटों से जीतकर आने वाले सांसद हैं गोरखपुर से। कम से कम लोकतंत्र में जनता का तो सम्मान कीजिए।
इस दौरान बसपा नेता एमएच खान ने बीच में एंकर को टोकते हुए कहा कि अभी भी पूर्वांचल से आते हैं। ये एक काम बता दें कि एक काम किया हो इन्होंने गोरखपुर में। योगी आदित्यनाथ ने जो काम किया, वो हुआ। ये शुक्ला जी जो हैं, वो जब चुनाव लड़ने गए तो रवि किशन नहीं थे, रवि किशन शुक्ला बनकर गोरखपुर गए थे।



Comments

Popular posts from this blog

जौनपुर में चुनावी तापमान बढ़ाने आ रहे है सपा भाजपा और बसपा के ये नेतागण, जाने सभी का कार्यक्रम

अटाला मस्जिद का मुद्दा भी अब पहुंचा न्यायालय की चौखट पर,अटाला माता का मन्दिर बताते हुए परिवाद हुआ दाखिल

मछलीशहर (सु) लोकसभा में सवर्ण मतदाताओ की नाराजगी भाजपा के लिए बनी बड़ी समस्या,क्या होगा परिणाम?