जौनपुर में बसपा को जोर का झटका करीने से, डॉ जेपी सिंह ने सुभासपा किया ज्वाइन


जौनपुर। चुनाव से पहले जनपद जौनपुर में बहुजन समाज पार्टी को एक बड़ा झटका लगा है। बसपा के जिला उपाध्यक्ष रहे और जफराबाद विधानसभा के प्रभारी डॉ जय प्रकाश सिंह (जेपी सिंह ) एसोसिएट प्रोफेसर टीडी पीजी कालेज ने बसपा को अलविदा कहते हुए सुहेलदेव भारतीय समाज पार्टी सुभासपा का दामन पकड़ लिया है। डॉ जेपी सिंह ने सुभासपा की सदस्यता राजधानी लखनऊ में पार्टी कार्यालय पर राष्ट्रीय अध्यक्ष ओमप्रकाश राजभर और राष्ट्रीय प्रमुख महासचिव अरविंद राजभर तथा राष्ट्रीय उपाध्यक्ष महेंद्र राजभर एवं डॉ सन्तोष पान्डेय की उपस्थित में सुभासपा के सदस्य बन गये है। 
बसपा छोड़ने के पीछे कारण जानने पर डाॅ सिंह ने बताया कि राजनीति की शुरुआत बसपा से किया जब से बसपा का सदस्य बना संगठन की मजबूती के लिए दिन रात एक किये काम करता रहा लेकिन खेद इस बात का है कि इस पार्टी में जमीनी कार्यकर्ता की कोई अहमियत अथवा सम्मान पार्टी नेतृत्व की नजर में नहीं रहता है पैसे वाले आयातित पूंजीपतियों को टिकट बेचने का खुला खेल किया जाता है। कई स्तर पर बसपा के लोंगो को धनोपार्जन का दायित्व सौंपा गया है। डॉ सिंह ने यह भी बताया कि बसपा में शोषण भी अधिक होता है। इस लिए इस दल में काम करना उचित नहीं लगा और सुहेलदेव भारतीय समाज पार्टी जो दलित सोशित गरीब कमजोर मजलूम की बात करती है और राष्ट्रीय अध्यक्ष ओमप्रकाश राजभर जी की नीतियों में विश्वास करते हुए सुभासपा की सदस्यता ग्रहण कर लिया है। 
डॉ सिंह ने   कहा कि 2022 में सुहेलदेव भारतीय समाज पार्टी तथा समाजवादी पार्टी एवं अन्य दलों के गठबंधन की सरकार बनाकर अखिलेश यादव जी को सूबे के मुख्यमंत्री बनाने हेतु तन मन धन से समाजिक भाईचारा व ज़मीनी गठबंधन बनाते हुए मेहनत किया जाएगा।  उन्होंने कहा कि जो लोग मेरे साथ धोखा करते हैं उन्हें ऊपर वाला और नीचे वाले दोनों समय पर सबक सिखाएगें। बसपा से विदा लेते हुए डॉ जेपीसिंह ने कहा कि कार्यकर्ताओं को ठगने का कार्य कुछ कोऑर्डिनेटर लगातार कर रहें हैं। जिससे ईमानदार कार्यकर्ता व सामाजिक भाईचारा के लोगों की उपेक्षा हो रही है। सुभासपा के सभी नेताओं का आभार ब्यक्त करते हुए आगामी विधानसभा चुनाव में गठबंधन की सरकार बनाने के लिए कार्यकर्ताओ को पूरी ताकत से लगने की जरूरत है। 

टिप्पणियाँ

एक टिप्पणी भेजें

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

अब से राशन मिलना बंद, पूरे 4 महीने के लिए लगी राशन पर रोक, जानें क्या है कारण

जौनपुर में शादी का झांसा देकर किशोरी से दुष्कर्म, मुकदमा दर्ज पुलिस जांच में जुटी

पूर्वांचल के रास्ते यूपी में जानें कब प्रवेश कर सकता है मानसून, भीषण गर्मी से मिलेगी निजात