वृद्ध मां की दर्द भरी दास्तान सुनने के बाद एडीजी के दबाव में बेटे के खिलाफ पुलिस ने दर्ज किया मुकदमा


जिस बेटे को बुढ़ापे की लाठी समझकर पाला था, उसी ने मां को पीटकर घर से निकाल दिया। बूढ़ी मां पुष्पा अब किराये के मकान में रह रही हैं। न्यायालय में बेटे से मुकदमा लड़ रही हैं। कुछ समय पहले जब बेटे ने उन्हें धमकाया तो वह एडीजी के पास पहुंचीं। पूरी  दास्तान एडीजी को बताया वृद्धा की बात सुनकर एडीजी प्रेम प्रकाश द्रवित हो गए। उन्होंने तुरंत रिपोर्ट दर्ज कर कार्रवाई के आदेश दिए। तत्पश्चात बेटे के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज कर ली गई। 
घटन जनपद प्रयागराज स्थित अल्लापुर के रामानंद नगर की रहने वालीं पुष्पा शुक्ला की है वह अपने मां-बाप की इकलौती संतान हैं। उनके माता पिता ने अपनी संपूर्ण जायदाद पुष्पा के नाम कर दी थी। पति रवींद्र नाथ शुक्ला की मौत के बाद उन्होंने अपने बेटे कृष्णा और बेटी लालन-पालन अकेले किया। बेटी की शादी हो गई। बेटा गलत आदतों और नशे के कारण पुष्पा के साथ मारपीट करने लगा। उसे बहुत समझाया लेकिन वह नशा करके आता और मां के मारपीट और गाली गलौज करता। तंग आकर पुष्पा ने अपनी पूरी जायदाद बेटी के नाम कर दी।
इसका पता चलते ही कृष्णा ने मां पुष्पा को जमकर मारापीटा और घर से निकाल दिया। वह किराये पर रहने लगीं और अदालत में केस कर दिया। अदालत ने यथा स्थिति बनाए रखने का आदेश दिया लेकिन कृष्णा उन्हें घर में रहने नहीं देता। वह अब भी किराये पर रहती हैं।
अदालत में मुकदमा चल रहा है। कुछ समय पहले अदालत परिसर में ही कृष्णा ने अपनी मां का हाथ मोड़ दिया और गाली देते हुए धमकी दी गाड़ी से कुचल देगा। उसने बहन और बहनोई को भी मारने की धमकी दी। इससे पुष्पा डर गईं। उन्होंने एडीजी प्रेम प्रकाश से मुलाकात कर अपना दुखड़ा रोया। एडीजी के आदेश पर कृष्णा शुक्ला के खिलाफ विभिन्न धाराओं में रिपोर्ट दर्ज कर ली गई। इंस्पेक्टर जार्जटाउन बृजेश सिंह के अनुसार रिपोर्ट दर्ज कर जांच की जा रही है। आरोपी बेटा जल्द ही सलाखो के पीछे पहुंच जायेगा। 

टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

भीषण सड़क दुर्घटना में दस लोगो की मौत दो दर्जन गम्भीर रूप से घायल, उपचार जारी

यूपी में जौनपुर के माधोपट्टी के बाद संभल औरंगपुर जानें कैसे बना आइएएस आइपीएस की फैक्ट्री

जानिए इंटर के छात्र ने प्रधानाचार्य को गोली क्यों मारी, हालत नाजुक, छात्र पुलिस पकड़ से दूर