शिक्षक पुरानी पेंशन बहाली के लिए संघर्ष कर रहे संगठन को मजबूती प्रदान करें - धर्मेंद्र यादव


जौनपुर। उत्तर प्रदेश माध्यमिक शिक्षक संघ (नवीन) की जिला इकाई के पदाधिकारियों द्वारा सल्तनत बहादुर इंटर कॉलेज बदलापुर में संगठन की मजबूती और शैक्षिक संगोष्ठी (विषय- नई शिक्षा नीति 2020) का आयोजन किया गया जिसमें  मुख्य अतिथि प्रदेश अध्यक्ष एवं पूर्व प्रत्याशी सदस्य विधान परिषद् धर्मेन्द्र यादव और अध्यक्षता जिला इकाई के वरिष्ठ उपाध्यक्ष रीतेश यादव ने किया। शैक्षिक संगोष्ठी को मुख्य अतिथि संगठन के मुखिया प्रांतीय अध्यक्ष धर्मेन्द्र यादव ने संबोधित करते हुए कहा कि इसरो के पूर्व प्रमुख  के कस्तूरीरंगन की अध्यक्षता में गठित 12सदस्यों की समिति द्वारा तैयार और सरकार द्वारा अनुमोदित  नई शिक्षा नीति 2020 का मुख्य उद्देश्य 10+2 को बदलकर 5+3+3+4 के पैटर्न पर स्कूल से लेकर उच्च शिक्षा प्रणालियों में परिवर्तनकारी सुधारों लागू करना तथा शिक्षा में गुणवत्ता के साथ साथ भारत को प्रशिक्षित गुरुओं की बदौलत वैश्विक महाशक्ति के रूप में स्थापित करना,2030तक समग्र नामांकन अनुपात को100% करते हुए केंद्र- राज्य सरकार द्वारा शिक्षा क्षेत्र पर सार्वजानिक व्यय जीडीपी का 6% करने,शिक्षकों को प्रशिक्षित करने,बच्चों में रटने के बजाय समझने और उनके शारीरिक- मानसिक स्वास्थ्य पर बल देते हुए कौशल विकास की क्षमता पैदा करना राष्ट्रीय शिक्षा नीति का उद्देश्य है।आगे प्रदेश अध्यक्ष ने नौजवान शिक्षक साथियों का आह्वान करते हुए कहा कि अधिक से अधिक संख्या में संगठन की सदस्यता ग्रहण कर बुढ़ापे की लाठी रुपी पुरानी पेंशन बहाली सहित विभिन्न मांगो को लेकर संघर्ष कर रहे संघ को मजबूत करने का काम करें।  जिलाध्यक्ष राज केशर यादव ने कहा कि संघ मजबूत होगा तभी हमारे हक-अधिकार और मानसम्मान एवं सेवा सुरक्षा महफूज रहेगी। जिलामंत्री राम सूरत वर्मा ने शिक्षकों को संबोधित करते हुए हमारी एकता ही संगठन को प्रभावशाली और शक्तिशाली बनायेगा। जिला कोषाध्यक्ष राम नरायन विन्द जी ने संगठन की मजबूती के लिए  आर्थिक सहयोग पर बल दिया  नौजवान शिक्षक अंबरीश विश्वकर्मा,अभिषेक सिंह ने नेतृत्व से विद्यालयों के बिजली के बिल को कमर्शियल से न्यूनतम घरेलू दर में बदलवाने की अपील की।  रविकांत,सिद्धार्थ यादव, मुकेश सिंह,विजय शंकर तिवारी ने कहा कि सरकार से  स्थानान्तरण का अधिकार  माध्यमिक शिक्षा सेवा चयन बोर्ड प्रयागराज को देने की मांग की। अत में संगोष्ठी की अध्यक्षता कर रहे रीतेश यादव ने  उपस्थित सभी पदाधिकारियों और सम्मानित शिक्षक साथियों के प्रति सादर आभार व्यक्त किया। 

शैक्षिक संगोष्ठी में शिवदत्त प्रसोत,रीतेश कुमार, अनिल कन्नौजिया, अंबरीश विश्वकर्मा, चन्द्रशेखर यादव, अभिषेक सिंह, विजय प्रकाश गौतम, सुशील कुमार, दयाराम, अमरनाथ वर्मा, रामपाल, ओमप्रकाश,विश्व प्रकाश मौर्य,जयप्रकाश यादव, संतोष पटेल, दिलीप यादव, बैजनाथ, महेन्द्र यादव,दिनेश कुमार, अनुराग सिंह, उमाशंकर पटेल, धर्मेन्द्र उपाध्याय,प्रभात मिश्र, ब्रह्मदेव निगम, कमलेश कुमार, मुलायम यादव, पवन कुमार, वीरेन्द्र कुमार, इन्द्रजीत, सिद्धार्थ यादव, सत्य प्रकाश तिवारी, कृष्ण कान्त, श्रीकांत पटेल, नीतेन सिंह आदि शिक्षक उपस्थित रहें।संचालन मीडिया प्रभारी राम सेवक जी ने किया।

Comments

Popular posts from this blog

हाईकोर्ट का शख्त आदेश एसपी जौनपुर एवं एसएचओ झूंसी लापता महिला को कोर्ट में करे हाजिर,जानें क्या है मामला

कांवड़ यात्रियों के लिए मुख्यमंत्री का शख्त आदेश, तो अखिलेश, मायावती का शख्त विरोध, जानें क्या है आदेश

पैतृक सम्पत्तियों को विवाद मुक्त करने के लिए जानिए क्या व्यवस्था कर रही है यूपी सरकार, नहीं लगाने होंगे तहसील के चक्कर