कौशल विकास से युवा करें सुनहरे भविष्य का निर्माण:डॉ. अदिति नारायणी


आत्मनिर्भर भारत की बुनियाद है कौशल विकास: प्रो.निर्मला एस. मौर्य

जौनपुर। वीर बहादुर सिंह पूर्वांचल विश्वविद्यालय के कौशल विकास एवं प्रशिक्षण केंद्र में मंगलवार को वाई 20 के अंतर्गत “21वीं सदी की चुनौतियां एवं युवाओं का कौशल विकास” विषय पर वाई 20 चौपाल का आयोजन किया गया | कार्यक्रम में बतौर मुख्य अतिथि दिल्ली विश्वविद्यालय की  ट्रैक चेयर वाई 20 डॉ. अदिति नारायणी पासवान ने छात्रों को वाई 20 के उद्देश्यों व थीम के बारे में विस्तार से बताया। उन्होंने कहा कि इस अभियान के अंतर्गत युवाओं को कौशल विकास से जुड़ने के लिए सरकार लगातार प्रयास कर रही है। व्यक्ति और देश के विकास के लिए जन शक्ति का कौशल विकास आवश्यक है जिसके दृष्टिगत रोजगारपरक कौशल सीखने हेतु भारत सरकार द्वारा अनेक प्रकार की योजनाएं जैसे दीनदयाल उपाध्याय ग्रामीण कौशल योजना और प्रधानमंत्री कौशल विकास योजना आदि चलाई जा रही है । उन्होंने कहा कि आज के वैश्विक परिदृश्य में बदलाव और रचनात्मकता की मांग दिनोंदिन बढ़ती जा रही है। इसको ध्यान में रखते हुए राष्ट्रीय शिक्षा नीति 2020 में कौशल विकास के पाठ्यक्रम को भी जोड़ा गया हैं । कौशल विकास के माध्यम से युवा अपने सुनहरे भविष्य का निर्माण कर समाज एवं देश के विकास में अपना अमूल्य योगदान दे सकते हैं ।
कार्यक्रम की अध्यक्षता कर रहीं विश्वविद्यालय की कुलपति प्रो. (डॉ.) निर्मला एस. मौर्य ने  कहा कि युवा किसी भी देश का भविष्य है । आज भारत विश्व की सबसे बड़ी शक्ति के रूप में उभर रहा है । यहाँ प्रत्येक तीसरा व्यक्ति युवा है ऐसे में हमें, इस युवा ऊर्जा का प्रयोग सही दिशा में करने के लिए साधन सोचने होंगें । कुलपति ने कहा कि कौशल विकास न केवल आजीविका का साधन है बल्कि सामान्य दिनचर्या में स्वयं के जीवंत और ऊर्जावान महसूस करने का एक विशेष माध्यम भी है । उन्होंने कहा कि हमें आशा ही नहीं पूर्ण विश्वास है कि कौशल विकास के माध्यम से आज की युवा शक्ति निश्चित ही भारत की तस्वीर एवं तकदीर बदलेगी |  
कौशल विकास एवं प्रशिक्षण केंद्र के नोडल अधिकारी डॉ. राज कुमार ने छात्रों की उपलब्धियों एवं चल रहे रोजगारपरक पाठ्यक्रमों के बारे में विस्तार पूर्वक बताया | उन्होंने कहा कि निश्चित रूप से यह केंद्र पूर्वांचल विश्वविद्यालय के आसपास के ग्रामीण युवाओं के लिए एक सुविधा संपन्न मंच के रूप में उभर रहा है |


कार्यक्रम में जी-20 के अंतर्गत कराई गई विभिन्न प्रतियोगिताओं में प्रथम, द्वितीय एवं तृतीय स्थान प्राप्त करने वाले प्रतिभागियों को प्रमाण पत्र प्रदान किया गया | वाई 20 चौपाल का का आयोजन डॉ. श्याम कन्हैया द्वारा किया गया । कार्यक्रम का संचालन एवं अतिथियों का स्वागत जी-20 की नोडल अधिकारी डॉ जाह्नवी श्रीवास्तव ने किया तथा धन्यवाद ज्ञापन डॉ. राज कुमार ने किया । इस अवसर पर प्रो. देवराज सिंह, डॉ. नीरज अवस्थी, डॉ. नितेश जयसवाल, डॉ. शशिकांत यादव, डॉ रामांशु प्रभाकर सिंह, डॉ, विनय वर्मा, डॉ. लक्ष्मी प्रसाद मौर्य, श्रीनाथ यादव, डॉ. प्रमोद कुमार, राजन गुप्ता, संतोष कुमार, अभिषेक आदि उपस्थित रहे |

Comments

Popular posts from this blog

मछलीशहर (सु) लोकसभा में सवर्ण मतदाताओ की नाराजगी भाजपा के लिए बनी बड़ी समस्या,क्या होगा परिणाम?

स्वामी प्रसाद मौर्य के कार्यालय में तोड़फोड़ गोली भी चलने की खबर, पुलिस जांच पड़ताल में जुटी

लोकसभा चुनाव के लिए सायंकाल पांच बजे तक मतदान का प्रतिशत यह रहा