पुरानी पेंशन बहाल न होने पर संसद का घेराव करेंगेः शिव गोपाल मिश्रा


विभेदकारी एवं विनाशकारी है पीएफआरडीए कानूनः इं हरि किशोर तिवारी

अंतरात्मा की आवाज पर पुरानी पेंशन बहाल करे सरकार : डॉ प्रदीप सिंह

पुरानी पेंशन योजना बहाली संयुक्त मंच उत्तर प्रदेश के केंद्रीय नेतृत्व के आह्वान पर रेलवे स्टेडियम चारबाग लखनऊ में रेलवे, पोस्टल, आयकर, राज्य कर्मचारी,शिक्षक,पेंशनर, आकाशवाणी,दूरदर्शन आदि विभागों के हजारों शिक्षकों एवं कर्मचारियों द्वारा एक सूत्रीय मांग पुरानी पेंशन बहाली पर पूरे जोश के साथ हुंकार रैली में सहभागिता किया गया। पुरानी पेंशन बहाली मंच के राष्ट्रीय संयोजक ऑल इंडिया रेलवे मेंस फेडरेशन के कामरेड शिव गोपाल मिश्र ने कहा कि पुरानी पेंशन बहाली की गेंद अब केंद्र सरकार के पाले में है लखनऊ हुंकार रैली के बाद भी अगर सरकार कर्मचारियों के भविष्य के मुद्दे पर संवेदनशील एवं गंभीर नहीं होती है तो मानसून सत्र में संसद का घेराव किया जाएगा तथा 1974 की भांति रेल के चक्के जाम होंगे। कार्यक्रम की अध्यक्षता कर रहे राज्य कर्मचारी संयुक्त परिषद के प्रांतीय अध्यक्ष इं हरि किशोर तिवारी ने पुरानी पेंशन बहाली मे सबसे बड़ी बाधा 2011 में पारित पीएफ आरडीए बिल को बताते हुए इस काले कानून को अविलम्ब रद्द करने की मांग किया।
उत्तर प्रदेश ग्राम पंचायत अधिकारी संघ के प्रदेश अध्यक्ष डॉ प्रदीप सिंह ने हुंकार रैली को संबोधित करते हुए केंद्र सरकार से अपील किया कि सात राज्यों मे पुरानी पेंशन बहाली के बाद अब अन्तरात्मा की आवाज एवं कर्मचारियों के आर्थिक  भविष्य को सुरक्षित रखने हेतु संसद के मानसून सत्र में पुरानी पेंशन बहाल कर देना चाहिए। हुंकार रैली में दहाड़ते हुए श्री सिंह ने कहा कि अगर देश के कर्मचारियों एवं शिक्षकों के सर्वोच्च मुद्दे पर सरकार संवेदनहीन एवं मौन बनी रही तो केंद्रीय नेतृत्व को अधिक कठोर निर्णय लेने हेतु मजबूर होना पड़ेगा जिससे टकराव बढ़ेगा तथा विकास कार्य प्रभावित होंगे।
हुंकार रैली में ग्राम विकास अधिकारी संघ के प्रदेश अध्यक्ष सुभाष पांडेय, प्राथमिक शिक्षक संघ के प्रदेश अध्यक्ष सुशील पांडेय, परिषद के प्रांतीय महामंत्री शिवबरन सिंह यादव, माध्यमिक शिक्षक संघ के अध्यक्ष पूर्व एमएलसी चेत नरायन सिंह, सफाई कर्मचारी संघ के प्रदेश अध्यक्ष नरेंद्र पाल सिंह, पूर्वांचल विश्वविद्यालय शिक्षक संघ के महामंत्री डॉ शैलेंद्र सिंह, कामरेड सीपी सिंह, राजाराम यादव, नागेंद्र प्रताप कुशवाहा, डॉ फूलचंद कनौजिया, दयाराम गुप्ता, अमर बहादुर यादव आदि प्रदेश के विभिन्न जनपदों से आये हजारों कर्मचारी शिक्षक पदाधिकारियों कर्मचारियों ने सहभागिता किया। हुंकार रैली का संचालन रेलवे के मंडल मंत्री एवं समन्वय आर के पांडेय ने किया।

Comments

Popular posts from this blog

16 मई को कक्षा एक से आठ तक के सभी विद्यालय बन्द रहेगे - बीएसए जौनपुर

जौनपुर में चुनावी तापमान बढ़ाने आ रहे है सपा भाजपा और बसपा के ये नेतागण, जाने सभी का कार्यक्रम

अटाला मस्जिद का मुद्दा भी अब पहुंचा न्यायालय की चौखट पर,अटाला माता का मन्दिर बताते हुए परिवाद हुआ दाखिल