महिला पहलवानो के यौन शोषण के आरोपी बृजभूषण शरण सिंह को नहीं मिली रैली करने की अनुमति



भारतीय जनता पार्टी सांसद बृजभूषण शरण सिंह और पहलवानों के बीच की लगातार चल रही जंग के कारण उन्हे अयोध्या में रैली करने की अनुमति नहीं मिल सकी है। यौन शोषण जैसे गंभीर आरोपों में घिरे बृजभूषण शरण सिंह ने शुक्रवार को ऐलान किया है कि अयोध्या में होने वाली जन चेतना रैली स्थगित की जा रही है। बीजेपी सांसद ने सोशल मीडिया पर पोस्ट करके कहा कि पुलिस जांच के चलते इस रैली को फिलहाल के लिए स्थगित किया जा रहा है।
डब्ल्यूएफआई के पूर्व अध्यक्ष और भाजपा सांसद बृजभूषण शरण सिंह ने घोषणा की कि 5 जून को होने वाली 'जन चेतना महारैली, अयोध्या चलो' को कुछ दिनों के लिए स्थगित किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि पुलिस जांच चल रही है और सुप्रीम कोर्ट के गंभीर निर्देशों का सम्मान करते हुए ये निर्णय लिया है। गौरतलब है कि भारतीय जनता पार्टी सांसद बृजभूषण शरण सिंह ने 5 जून को अयोध्या में 'जन चेतना महारैली' का ऐलान किया था। इस महारैली में बृजभूषण ने साधु-संतों से शामिल होने की अपील की थी। पहलवानों के लगाए गंभीर आरोपों के बीच बृजभूषण शरण सिंह ने अयोध्या से अपना दमखम दिखाने की योजना बनाई थी।
अयोध्या जिला प्रशासन ने भाजपा सांसद बृजभूषण शरण सिंह को यहां पांच जून को रैली करने की अनुमति नहीं दी है। एक अधिकारी ने शुक्रवार को जानकारी देते हुए कहा कि बीजेपी सांसद को अयोध्या में रैली करने की इजाजत नहीं दी गई। अंचल अधिकारी (अयोध्या) एसपी गौतम ने कहा कि विश्व पर्यावरण दिवस पर पांच जून को होने वाले अन्य कार्यक्रमों के मद्देनजर सिंह की ओर से मांगी गई अनुमति को खारिज कर दिया गया।
उन्होंने बताया कि सांसद बृजभूषण शरण सिंह की ओर से भाजपा पार्षद चमेला देवी ने अयोध्या में होने वाली जन चेतना महारैली के लिए अनुमति मांगी थी। विश्व पर्यावरण दिवस को देखते हुए मांगी गई अनुमति को खारिज कर दिया गया है।
भाजपा सांसद और भारतीय कुश्ती महासंघ (डब्ल्यूएफआई) के प्रमुख बृजभूषण शरण सिंह पर महिला पहलवानों का यौन शोषण करने का आरोप लगाया गया है। बृजभूषण शरण सिंह पर यौन शोषण का आरोप लगाते हुए विनेश फोगाट, बजरंग पुनिया और साक्षी मलिक सहित प्रमुख पहलवान 23 अप्रैल से विरोध प्रदर्शन कर रहे हैं। बता दें कि बृजभूषण शरण सिंह उत्तर प्रदेश के कैसरगंज से भाजपा सांसद हैं।

Comments

Popular posts from this blog

जौनपुर और मछलीशहर (सु) लोकसभा में जानें विधान सभा वारा मतदान का क्या रहा आंकड़ा,देखे चार्ट

मतगणना स्थल पर ईवीएम मशीन को लेकर हंगामा करने वाले दो सपाई सहित 50 के खिलाफ एफआईआर

आयोग और जिला प्रशासन के मत प्रतिशत आंकड़े में फिर मिला अन्तर