भाजपा नेता सहित नौ नामजद एवं अज्ञात लोगो पर गम्भीर धाराओं में मुकदमा दर्ज, जानें कारण


जौनपुर।शाहगंज नगर स्थित आजमगढ़ मार्ग पर पेट्रोल पंप के बगल बेशकिमती भूमि पर अवैध कब्जे का प्रयास किया गया। जेसीबी लेकर अतिक्रमणकारियों ने दुकान की बाउंड्री ध्वस्त कर सामान तहस नहस कर दिया और सीसीटीवी कैमरे का तार काट दिए। मौके पर महिलाओं ने पहुंच कब्जा रोकने का प्रयास किया। प्रयास के दौरान भूस्वामिनी राजकुमारी घायल हो गयी। मौके पर पहुंची पुलिस को देख अतिक्रमणकारी फरार हो गए। पुलिस ने विधिक कार्रवाई करते हुए सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र पर घायल राजकुमारी का मेडिकल परीक्षण कराया। फिलहाल पुलिस ने पीड़िता की तहरीर पर नौ नामजद समेत अज्ञात पर मामला दर्ज कर जांच में जुटी है।
कोतवाली क्षेत्र के डिहवा भादी निवासी राजकुमारी पत्नी छाजीलाल की दुकान आजमगढ़ मार्ग पर स्थित है। पीड़िता के मुताबिक रजिस्ट्री शुदा भूमि पर हाईकोर्ट का स्थगन आदेश पारित हैं। तहरीर के मुताबिक बुधवार दोपहर बारह बजे दो दर्जन से ज्यादा लोग जेसीबी ले आये एवं बाउंड्री तोड़ अन्दर जा घुसे। सीसीटीवी कैमरे के तार काट दिए ।दुकान के अन्दर रखें लगभग बीस लाख रुपए का सामना उठा ले गये। इसी दौरान पीड़िता जेसीबी के सामने आ खड़ी हुई। आरोप है कि धक्का दे घायल कर दिया गया। वहीं कंगन छिनने के प्रयास में हाथ जख्मी हो गया। वहीं छेड़छाड़ समेत जान से मारने का प्रयास किया गया। वही भूस्वामनी राजकुमारी देवी का पुलिस ने मेडिकल मुआयना भी सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र पर कराया।फिलहाल पुलिस ने पीड़िता की तहरीर पर सुजीत जायसवाल, आनन्द जायसवाल, अजीत जायसवाल,भाजपा नेता ओम प्रकाश जायसवाल, प्रदीप जायसवाल, रमेश, राहुल, संतोष, अजय सेठ समेत अज्ञात पर गम्भीर धाराओं में मामला दर्ज किया गया है। योगी शासन काल में जहां पुलिस आम जनमानस से निर्भीक होकर रहने का प्रचार प्रसार कर रही है ऐसे में भाजपा नेता के ऊपर लगे इस आरोप का क्या होगा जबकि संज्ञान में हो कि सुजीत जायसवाल प्रॉपर्टी के बड़े व्यवसायी माने जाते हैं और शाहगंज नगर पालिका के पूर्व अध्यक्ष ओम प्रकाश जायसवाल के सगे भतीजे भी हैं ऐसे में राजनीतिक छाया भी बनी रहती है। अब देखना यह है कि योगी सरकार में न्याय किस हद तक पीड़िता को मिल सकती है।
___________________________________
प्रभारी निरीक्षक आदेश त्यागी के अनुसार जेसीबी लेकर कुछ लोग भूमि पर कब्जा कर रहे थे। मौके पर मामला शांत कराया गया। फिलहाल पीड़िता की तहरीर पर मामला दर्ज कर लिया गया है।
___________________________________ 
इस संबंध में क्षेत्राधिकार सगन हेमंत कुमार ने बताया कि मामला हमारे संज्ञान में पूर्ण रूप से नहीं आया है परंतु पुलिस जांच की जा रही है।

Comments

Popular posts from this blog

डीएम जौनपुर ने चार उप जिलाधिकारियों का बदला कार्यक्षेत्र जानें किसे कहां मिली नयी तैनाती देखे सूची

पुलिस भर्ती परीक्षा पेपर लीक मामले में जौनपुर की अहम भूमिका एसटीएफ को मिली,जानें कहां से जुड़ा है कनेक्शन

जौनपुर में आधा दर्जन से अधिक थानाध्यक्षो का हुआ तबादला,एसपी ने बदला कार्य क्षेत्र