भीषण आगजनी में एक मासूम सहित तीन जनवर जल कर हो गये राख,गांव में पसरा मातमी सन्नाटा


 
घटना की सूचना पर मौके पर पहुंच कर पीड़ित परिवार के घर शोक संवेदना व्यक्त करते सपा जन एवं सन्तावना देते हुए सरकार से सहायता की किया मांग 
जौनपुर। जिले के थाना मछली शहर क्षेत्र स्थित ग्राम जमालापुर में 23/24की अर्ध रात्रि को   एक रिहायशी मड़हे में आग लगने से आठ साल के मासूम सहित तीन जानकर जिन्दा जल कर राख हो गये है इस घटना से पूरे गांव में मातमी सन्नाटा पसरा हुआ है। घटना की सूचना पर थाना मछली शहर की पुलिस ने जहां पहुंच कर राहत कार्य किया वहीं घटना की खबर लगते ही समाजवादी पार्टी के लोग भी पीड़ित परिवार के घर शोक संवेदना व्यक्त करने पहुंचे और सरकारी सहायता की मांग किया है।  
खबर मिली है कि ग्राम वासी विजय बहादुर गौतम का पूरा परिवार झोपड़ी में सो रहा था आग लगने पर परिवार के अन्य सदस्यों ने किसी तरह खुद को बचाया। लेकिन एक  08 वर्षीय पुत्र विक्रम आग की चपेट में फंस गया और जिन्दा जल गया। हलांकि ग्रामीणों ने अथक प्रयास से आग पर काबू पाया लेकिन तब तक सब कुछ राख हो गया था। 
जानकारी के अनुसार, जमालपुर गांव निवासी विजय बहादुर गौतम का परिवार रात में खाना खाने के बाद झोपड़ी में सो गया। रात करीब 12 बजे अचानक झोपड़ी में आग लग गई। आग की लपटें उठने पर पड़ोस के लोगों ने शोर मचाना शुरू किया तो झोपड़ी में सो रहे परिवार की नींद खुली। कुछ ही देर में आग ने विकराल रूप धारण करते हुए बगल में पशुओं को रखने के लिए बनी दूसरी झोपड़ी को भी चपेट में ले लिया। आनन-फानन में शोर मचाते हुए लोग परिवार के सदस्य बाहर की ओर दोड़ पड़े।
विजय बहादुर की पत्नी और दो बेटे तो सुरक्षित बाहर निकल आए, लेकिन मझला बेटा विक्रम(8) आग के बीच ही फंस गया। उसकी आग में जिंदा जलने से मौत हो गई।
बगल की झोपड़ी में बंधा एक बछड़ा, एक पड़िया और एक बकरा की भी झुलसने से मौत हो गई, जबकि दो भैंस और एक गाय बुरी तरह झुलस गईं। आग से पड़ोस में स्थित भाई उदयराज गौतम व अमर बहादुर गौतम की भी झोपड़ी जल गई है। मौके पर पहुंची पुलिस ने आसपास के लोगों की मदद से आग पर काबू पाया।
इस आगजनी की खबर लगते ही आज दिन में   समाजवादी पार्टी के जिलाअध्यक्ष लालबहादुर यादव  घटना स्थल स्थित जमालपुर गांव में पहुंचे  रात में मड़हे में आग लगने से सो रहे बच्चे की जलकर मौत हो गई वही पिता गंभीर रुप झुलस गया तीन 3 मवेशी भी जिंदा जल गए बड़ी मशक्कत के बाद आग पर काबू पाया गया।   पीड़ित परिवार से मिलकर घटना की जानकारी लिया तथा आर्थिक मदद करते हुए कहा कि आज भाजपा सरकार की पोल भी खुल गई जहां वो मंच पर भाषण तथा सरकारी लेखाजोखा में लगातार दावा कर रहे है कि हर गरीब परिवार को आवास दिया जा रहा है आज इस अग्नि कांड से भाजपा सरकार की पोल खुल गई कि सरक जनता से झूठ बोल कर गुमराह कर रही है   अभी तक भाजपा के किसी भी जनप्रतिनिधि ने इस दलित परिवार की खोज खबर नहीं लिया ऐसे में यही प्रतीक होता है कि भाजपा सरकार गरीबों के लिए कितनी संवेदनशील है हमारी सरकार से मांग है पीडित परिवार को 20 लाख की आर्थिक मदद किया जाय तथा इनका आवास बनवाया जाए । सपा अध्यक्ष के साथ घटना स्थल पर मुख्य रूप से अशोक यादव प्रमुख, लल्लू गुरु मेवालाल गौतम,जेपी यादव राजेश गौतम, राजमूरत गौतम, सोमारू गौतम,दिनेश गौतम, लालबिहारी गौतम, आदि लोग गये थे।

टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

चाचा भतीजी में हुआ प्यार, फिर फरार, पकड़े जाने पर हुई दैहिक समीक्षा, अब शादी की तैयारी

58 हजार ग्राम प्रधानो को लेकर योगी सरकार ने लिया अब यह फैसला

जौनपुर में तैनात दुष्कर्म के आरोपी पुलिस इन्सपेक्टर की सेवा हुई समाप्त, जानें क्या है घटना क्रम