सपा प्रदर्शन स्थल पर जिला पंचायत अध्यक्ष के चुनाव में धोखेबाजी करने वालों को लेकर जानें क्या रही चर्चा



जौनपुर। जनपद में पंचायत चुनाव में सबसे अधिक 42 जिला पंचायत सदस्यों वाली सपा अध्यक्ष पद के चुनाव में हार कर 12 सदस्यों तक  सिमटने वाली सपा के नेता गण आज पार्टी के राष्ट्रीय नेतृत्व के निर्देश पर कलेक्ट्रेट परिसर में जब पूरे जोश के साथ जय अखिलेश का नारा लगा रहे थे तो आम जनता के बीच चर्चा हो रही थी जब अखिलेश के हाथ को मजबूत करने का अवसर जनपद में सपाईयों को अपनी जेब याद आ गयी और पार्टी के सपा के विधायक से लेकर जिले के बड़े नेताओं ने करारा धोखा दिया और जब अवसर निकल गया तो राजनीता चमकाने और दिखावा के लिए नारे बाजी कर रहे है।
 यहां बता दे कि जनपद में आज पार्टी के जिलाअध्यक्ष लालबहादुर यादव के नेतृत्व में  कलेक्ट्रेट परिसर में सपाईयों ने धरना प्रदर्शन कर महामहिम राष्ट्रपति के नाम एक ज्ञापन दिया।
इस अवसर पर जिलाध्यक्ष लाल बहादुर ने कहा जिस तरह आज भाजपा सरकार तानाशाही कर रही है और लोकतंत्र को  खत्म कर दिया है किसानों नौजवानों बेरोजगारों पर अत्याचार कर रही है इसके विरोध में आज समाजवादी साथी सड़क पर उतरने को मजबूर है। अगर अत्याचार योगी सरकार बंद नहीं करेगी तो समाजवादी पार्टी के कार्यकर्ता नेता सरकार की ईंट से ईंट बजा देंगे। हम मारेंगे नहीं  लेकिन मानेंगे भी नहीं उन्होंने कहा जिस तरह हाल में पंचायत चुनाव में जनता ने जहां समाजवादी पार्टी के जिला पंचायत क्षेत्र पंचायत प्रधानों को जिताने का काम किया वहीं प्रमुख जिला पंचायत अध्यक्ष के चुनाव में शासन प्रशासन का नंगा नाच किया गया और जब जनता ने नकारा सब शासन प्रशासन बलपर प्रमुख जिला पंचायत अध्यक्ष का चुनाव जीतने का काम किया। इसे जनता सब जान रही है आने वाले 2022 के चुनाव में समाजवादी पार्टी सरकार बनाने जा रहे हैं जनता ने मन बना लिया है। हलांकि पार्टी के धोखेबाजो की चर्चा करने से परहेज किया लेकिन प्रदर्शन में भाग लेने आये कार्यकर्ता धोखेबाजो के प्रति अपमान जनक भाषा का प्रयोग करते नजर आये। हलांकि जनकी चर्चा कार्यकर्ता कर रहे थे ऐसे जिला पंचायत सदस्य और सपा नेता प्रदर्शन में नहीं नजर आये थे।
इस अवसर पर मुख्य रूप से विधायक मल्हनी लकी यादव, पूर्व विधान परिषद सदस्य लल्लन प्रसाद यादव, पूर्व मंत्री श्री राम यादव, पूर्व मंत्री डॉक्टर के पी यादव, पूर्व जिला पंचायत अध्यक्ष राज बहादुर यादव, पूर्व मंत्री जगदीश नारायण राय, पूर्व अध्यक्ष अवधनाथ पाल, पूर्व मंत्री दीपचन्द सोनकर, प्रवक्ता राहुल त्रिपाठी उपाध्यक्ष श्याम बहादुर पाल, महासचिव हिसामुद्दीन शाह, राजनाथ यादव, जितेन्द्र यादव, शकील अहमद ,प्रदीप यादव, शिवजीत यादव, पप्पू रंधुवशी, पूनम मौर्या, गुड्डू सोनकर, भानु मौर्य,रमेश साहनी, अनवारुल हक, रुख्शार,  रायनी, मनोज मौर्य अरशद, आशा राम यादव, शेखू खान मालती निषाद, बाबा यादव, समरबहादूर यादव एडवोकेट, ऋषि यादव आदि ने अपने विचारो को व्यक्त किया। 

टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

हर रात एक छात्रा को बंगले पर भेजो'SDM पर महिला हॉस्टल की अधीक्षीका ने लगाया 'गंदी डिमांड का आरोप; अधिकारी ने दी सफाई

जफराबाद विधायक का खतरे से बाहर डाॅ गणेश सेठ का सफल प्रयास, लगा पेस मेकर

महज 20 रूपये के लिए रेलवे से लड़ा 22 साल मुकदमा और जीता,जानें क्या है मामला