शासन के आदेश के बगैर ही 1.32 करोड़ रूपये के भुगतान मामले में फंसे डीआइओएस भाष्कर मिश्रा हुई अनुशासनात्मक कार्रवाई


विभाग की अनुमानित के बगैर ही जिला विद्यालय निरीक्षक द्वारा एक संस्कृत महाविद्यालय को एक करोड़ रूपये से अधिक का भुगतान करने पर शासन ने तत्कालीन डीआइओएस भाष्कर मिश्रा के खिलाफ अनुशासनात्मक कार्रवाई करते हुए जांच टीम गठित कर दिया गया है। 
 मामला जनपद बलिया के खेजुरी स्थित अमर संस्कृत उच्चतर माध्यमिक विद्यालय में बिना विभाग की मंजूरी के वर्ष 2019 में 1.32 करोड़ का शेष वेतन भुगतान मामले में शासन की ओर से कराई गई प्रारंभिक जांच में तत्कालीन डीआईओएस भास्कर मिश्र फंस गए हैं। उनके खिलाफ अनुशासनिक कार्रवाई की संस्तुति करते हुए उच्च स्तरीय जांच के लिए दो सदस्यीय टीम गठित की गई है। साथ ही अंबेडकरनगर डीआईओएस का प्रभार भी उनसे वापस ले लिया गया है।
शहर के मोहल्ला टैगोर नगर निवासी राम शरण सिंह ने तीन सितंबर 2020 को संयुक्त शिक्षा निदेशक एपी वर्मा से इस मामले में शिकायत की थी। जेडी ने जांच के बाद इसकी रिपोर्ट मुख्यालय को भेज दी थी। रिपोर्ट के आधार पर कुछ माह पूर्व माध्यमिक शिक्षा विभाग के लिपिक को निलंबित भी किया गया था। प्रकरण में शासन से गठित टीम की प्रारंभिक जांच में भी अमरनाथ संस्कृत उच्चतर माध्यमिक विद्यालय में बिना विभागीय मंजूरी के शिक्षकों एवं कर्मचारियों के वेतन अवशेष में लगभग 1.32 करोड़ के अनियमित भुगतान की पुष्टि हुई है।
रिपोर्ट में कहा गया कि सुनियोजित ढंग से वित्त एवं लेखाधिकारी तथा कार्यालय वित्त नियंत्रक शिक्षा निदेशालय प्रयागराज की मिलीभगत से तत्कालीन डीआईओएस भास्कर मिश्र ने कूटरचित आदेश तैयार कर राजकोष से धन निकालकर शासकीय क्षति पहुंचाई है। प्रथम दृष्टया दोषी पाने पर भास्कर मिश्र के खिलाफ अनुशासनिक कार्रवाई की संस्तुति करते हुए जांच के लिए दो सदस्यीय टीम गठन किया गया है। 
अपर मुख्य सचिव आराधना शुक्ला के पत्र के अनुसार, जांच टीम में विशेष सचिव माध्यमिक शिक्षा जयशंकर दुबे और संयुक्त शिक्षा निदेशक (शिविर) भगवती सिंह को शामिल किया गया है। जांच के बाद आरोप पत्र जारी होने पर अलग से कार्रवाई की जाएगी। साथ ही भास्कर मिश्र को अंबेडकर नगर जिला विद्यालय निरीक्षक का हाल में दिया गया प्रभार भी समाप्त कर दिया गया है। अब अंबेडकर नगर का अतिरिक्त प्रभार अयोध्या में तैनात आनंदकर पांडेय को दिया गया है।


टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

भाभी को अकेला देख देवर की नियत हुई खराबा, जानें फिर क्या हुआ, पुलिस को तहरीर का इंतजार

घुस लेते लेखपाल रंगेहाथ गिरफ्तार, मुकदमा दर्ज कर एनटी करप्शन टीम ले गयी साथ

सिद्दीकपुर में चला सरकारी बुलडोजर मुक्त हुई 08 करोड़ रुपए मालियत की सरकारी जमीन