तीन तलाक के मामले पूर्व विधायक चौधरी बशीर हुआ गिरफ्तार,अब पत्नी को मिल रही है धमकी



तीन तलाक के मामले में पूर्व मंत्री चौधरी बशीर को गिरफ्तार कर लिया गया है। उनकी पत्नी नगमा ने मंटोला थाने में तीन तलाक का मुकदमा दर्ज कराया था। इससे पहले स्थानीय अदालत ने चौधरी बशीर की अग्रिम जमानत का प्रार्थना पत्र निरस्त कर दिया था। पूर्व विधायक चौधरी बशीर के खिलाफ तीन तलाक के आरोप में मुकदमा दर्ज किया गया था। पत्नी नगमा का आरोप था कि पति ने छठवां निकाह कर लिया। इसके बाद जब इसका विरोध किया तो पति ने तीन बार तलाक बोलकर घर से निकाल दिया। यहां बताना जरूरी है कि तीन तलाक के मामले में पूर्व मंत्री चौ बशीर काफी दिनों से फरार चल रहे थें।
पत्नी नगमा पूर्व बसपा विधायक चौधरी बशीर पर गत 31 जुलाई को आगरा के थाना मंटोला में तीन तलाक का मुकदमा दर्ज किया गया था। पत्नी नगमा ने पुलिस को बताया कि बशीर का यह छठवां विवाह है। जब इसकी जानकारी उनको हुई तो पति बशीर ने उनको घर से बाहर कर दिया। इसके बाद नगमा गोबर चौकी स्थित करीम नगर में अपने मां बाप के घर पर तीन साल से थी। इस बीच जब पुलिस ने बशीर की गिरफ्तारी के लिए छापा मारा तो मौका पाकर वहां से फरार हो गया। पुलिस तब से बशीर की तलाश कर रही थी।
नगमा ने पुलिस को बताया था चौधरी बशीर के नौकर मिस्वाह, फरमान आदि उसके घर पर आए थे और धमकी दी थी कि मुकदमा वापस नहीं लिया तो जान से हाथ धो बैठोगी। चौधरी बशीर की पत्नी ने आरोप लगाया है कि वह कपडों की तरह पत्नी बदलता है। हाल ही में उसने छठवीं शादी की है। इसको लेकर जब चौथी पत्नी नगमा ने विरोध किया तो उसके साथ मारपीट की और फिर उसे तलाक दे दिया। उसके बाद नगमा ने थाना मंटोला में तीन तलाक की अर्जी दी थी। चौधरी बशीर की पत्नी ने बताया कि वह हिंदू युवतियों का धर्मांतरण कर शादी रचाते हैं। फिर शारीरिक शोषण करने के बाद उसे छोड़ देते हैं। पिछले दिनों जब पुलिस चौधरी बशीर के घर दबिश देने पहुंची थी, तो उससे पहले ही वह अपने घर से फरार हो चुका था।

टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

अब से राशन मिलना बंद, पूरे 4 महीने के लिए लगी राशन पर रोक, जानें क्या है कारण

जौनपुर में शादी का झांसा देकर किशोरी से दुष्कर्म, मुकदमा दर्ज पुलिस जांच में जुटी

पूर्वांचल के रास्ते यूपी में जानें कब प्रवेश कर सकता है मानसून, भीषण गर्मी से मिलेगी निजात