बिरसा मुंडा ने शोषण के विरुद्ध उठाई थी आवाज-कुलपति



बिरसा मुंडा शहीदी दिवस पर वेबिनार का हुआ आयोजन

जौनपुर। उत्तर प्रदेश शासन के निर्देशानुसार, कुलपति प्रो.  निर्मला एस. मौर्य के संरक्षकत्व में महिला अध्ययन केन्द्र, राष्ट्रीय सेवा योजना, वीर बहादुर सिंह पूर्वांचल विश्वविद्यालय, एवं टी डी कालेज  के संयुक्त तत्वावधान में आजादी का अमृत महोत्सव कार्यक्रम  के अन्तर्गत ‘बिरसा मुंडा शहीदी दिवस' पर वेबिनार का आयोजन किया। वेबिनार का विषय जन जातीय आंदोलन के नायक के रूप में बिरसा मुंडा का योगदान था।
वेबिनार में कुलपति प्रोफेसर प्रो निर्मला एस मौर्य ने कहा कि बिरसा मुंडा ने जल, जंगल, जमीन  के लिए निरंतर संघर्ष किया। उन्होंने कहा कि बिरसा मुंडा सदैव शोषण के विरुद्ध आवाज उठाने  की बात करते थे। उन्होंने जाति, समुदाय के सांस्कृतिक सामाजिक परंपराओं को संरक्षित करने के लिए भी प्रयास किया था। बिरसा मुंडा भले आज हम लोगों के बीच में नहीं है लेकिन  उन्हें आज भी भगवान की तरह पूजते है।

 मुख्य वक्ता इंदिरा गांधी जनजातीय केंद्रीय विश्वविद्यालय, अमरकण्टक, मध्य प्रदेश के हिंदी विभाग के शिक्षक डॉ. प्रवीण कुमार ने कहा कि आजादी के अमृत महोत्सव में देश के जननायको को याद करना गौरव की बात है। कहां कि बिरसा मुंडा आदिवासियों के रोम- रोम में बसे हैं। उन्होंने बिरसा मुंडा के साधारण परिवार के व्यक्ति से जननायक बनने की यात्रा पर विस्तार से प्रकाश डाला। उन्होंने कहा कि बिरसा मुंडा वैज्ञानिक दृष्टिकोण से लोगों को जागरूक करने का काम किया था। विभिन्न आंदोलनों में उसका नेतृत्व कर जनजातीय समाज में एक अलग तरीके का विश्वास जागृत किया था। उन्होंने लोगों के जीवन को स्वच्छ और पवित्र बनाने के लिए निरंतर प्रेरित किया। उन्होंने अंग्रेजी हुकूमत द्वारा शुरू किए गए जमीदारी प्रथा और राजस्व व्यवस्था के विरुद्ध लड़ाई लड़ी।
 
वेबिनार के संयोजक डॉ शशिकांत यादव ने अतिथियों का स्वागत एवं आभार प्रो रीता सिंह शिक्षा विभाग  ने व्यक्त किया।
नोडल अधिकारी प्रो अजय प्रताप सिंह  रहे ,आयोजन सचिव  डॉ० जान्हवी श्रीवास्तव  ने कहा इस तरह के कार्यक्रमों का आयोजन लगातार विश्वविद्यालय स्तर पर किया जाता रहेगा ताकि विद्यार्थी ऐसे तमाम इतिहास के जननायक से परिचित होते रहें ,
इस अवसर पर प्रोफेसर मानस पांडे, प्रोफ़ेसर देवराज, डॉ एसपी सिंह,डॉ दिग्विजय सिंह राठौर, डॉक्टर संतोष कुमार सिंह, डॉ रशिकेश ,डॉ सुनील ,डॉ नितेश जायसवाल, डॉ माया सिंह, डॉक्टर आलोक वर्मा,  रेखा पाल सोनम झा ,प्रियंका सिंह समेत तमाम लोग जुड़े।

टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

जौनपुर का बेटा बना यूनिवर्सिटी आफ टोक्यो जापान में प्रोफ़ेसर, लगा बधाईयों का तांता

इलाहाबाद हाईकोर्ट का ग्रामसभा की जमीन को लेकर डीएम जौनपुर को जानें क्या दिया आदेश

सिकरारा क्षेत्र से गायब हुई दो सगी बहने लखनऊ से हुई बरामद, जानें क्या है कहांनी