कक्षा एक में प्रवेश से पहले प्री-प्राईमरी स्कूल में बच्चो का करायें दाखिला- डीएम मनीष कुमार वर्मा



जौनपुर ।मिशन प्रेरणा फेज-2 में निपुण भारत के प्रभावी क्रियान्वयन के लिए कलेक्ट्रेट सभागार में आयोजित टास्क फोर्स की पहली बैठक में जिलाधिकारी मनीष कुमार वर्मा ने निर्देश दिया कि किसी भी बच्चे का प्रवेश कक्षा-1 में सीधे न किया जाए, उसे आंगनबाड़ी और प्री-प्राइमरी स्कूल में होने के बाद ही बच्चे का प्रवेश कक्षा-1 में किया जा सकेगा। उन्होंने निर्देश दिया है कि निपुण भारत मिशन के अंतर्गत वर्ष 2025-26 तक बाल वाटिका से कक्षा-3 के शत-प्रतिशत बच्चों में मूलभूत साक्षरता एवं संख्या ज्ञान का लक्ष्य प्राप्त किया जाना है।
जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी डा0 गोरखनाथ पटेल ने जिलाधिकारी को अवगत कराया कि शासनादेश के अनुसार बाल वाटिका में 5 से 6 वर्ष की आयु के बच्चो में अक्षरों और संगत ध्वनियों को पहचानने की क्षमता होनी चाहिए। कक्षा-1 में अर्थ के साथ पढ़ने की क्षमता होनी चाहिए और कक्षा-2 में अर्थ के साथ पढ़ने एवं 45 से 60 शब्द प्रति मिनट प्रवाह के साथ पढ़ने की क्षमता विकसित की जाएगी। कक्षा-3 में अर्थ के साथ पढ़ लेने एवं न्यूनतम 60 शब्द प्रति मिनट प्रवाह के साथ पढ़ने की क्षमता विकसित की जाएगी। इस प्रकार की क्षमता विकसित हो जाने पर पूरा प्रदेश निपुण प्रदेश के रूप में जाना जाएगा।
जनपद स्तरीय टास्क फोर्स के सदस्य सचिव/बेसिक शिक्षा अधिकारी डा0 गोरखनाथ पटेल ने बताया कि जनपद के सभी विद्यालयों में लाइब्रेरी की स्थापना की जा रही है और विद्यालयों की कक्षाओं को आकर्षक ढंग से सजाया गया है, पोस्टर और कैलेंडर लगाए गए है, जिससे कि बच्चों की भाषा एवं गणितीय क्षमता में वृद्धि की जा सके। उन्होंने टास्क फोर्स के सदस्य/अधिकारियों से अनुरोध किया कि शैक्षिक गुणवत्ता बढ़ाए जाने के संबंध में अपने सुझाव दें। उन्होंने कहा कि निपुण भारत मिशन अप्रैल 2022 से जनपद के सभी विद्यालयों में लागू कर दिया गया है। 16 जून से स्कूल खुलने के पश्चात एक सप्ताह तक सभी बच्चों को रिवीजन कराया गया है। सप्ताहवार इसके कार्यक्रम जारी कर दिए गए हैं, जिसका अनुपालन कराया जा रहा है। जिलाधिकारी ने इसका अनुपालन कराये जाने का निर्देश दिया।
जनपद स्तरीय टास्क फोर्स में मुख्य विकास अधिकारी/उपाध्यक्ष, मुख्य चिकित्सा अधिकारी, जिला विद्यालय निरीक्षक, डाइट के प्राचार्य, जिला पूर्ति अधिकारी, जिला कार्यक्रम अधिकारी, समाज कल्याण अधिकारी, दिव्यांगजन सशक्तिकरण, जिला सूचना विज्ञान अधिकारी, युवा कल्याण अधिकारी, राजकीय इंटर कॉलेज के प्रधानाचार्य को सदस्य नामित किया गया है। बैठक में टास्क फोर्स के सभी अधिकारी जनों के साथ अपर जिलाधिकारी वि0रा0 रामप्रकाश, जिला विकास अधिकारी बी0बी0 सिंह, समस्त खण्ड शिक्षा अधिकारीगण उपस्थित रहे।   

टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

हर रात एक छात्रा को बंगले पर भेजो'SDM पर महिला हॉस्टल की अधीक्षीका ने लगाया 'गंदी डिमांड का आरोप; अधिकारी ने दी सफाई

यूपी कैबिनेट की बैठक में जौनपुर की इस नगर पालिका के विस्तार का प्रस्ताव स्वीकृत

जफराबाद विधायक का खतरे से बाहर डाॅ गणेश सेठ का सफल प्रयास, लगा पेस मेकर