अब भ्रष्टाचार के खिलाफ बड़ी लड़ाई शुरू कर दी गई भ्रष्टाचारी कोई भी हो बचेगा नहीं- सीएम योगी आदित्यनाथ



जौनपुर। जनपद में प्रगति और विकास कार्यक्रम के तहत परियोजनाओ के लोकार्पण और शिलान्यास करने आये मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ लोकार्पण शिलान्यास और विकास कार्यो का सच देखने के पश्चात आयोजित जन सभा को सम्बोधित करते हुए कहा कि विकास आज की आवश्यकता है। अधिकारी इमानदारी के साथ योजनाओ का क्रियान्वयन करे और पूरी इमानदारी के साथ जिस मद की धनराशि मिल रही है उसी परियोजनाओ पर धनराशि खर्च किया जाये।
उन्होंने कहा कि हमारी सरकार भ्रष्टाचार के खिलाफ लड़ाई शुरू कर दिया है। अब भ्रष्टाचारी कोई भी होगा नहीं बच सकेगा।भ्रष्टाचारियों की सम्पत्तियों को कुर्क करते हुए उसे सार्वजनिक उपयोग में लगाया जायेगा।इसी के साथ विपक्ष पर निशाना साधते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि पिछली सरकारो के जीन्स में भ्रष्टाचार था। वह अपने और अपने खानदान के भ्रष्टाचार करते थे उनसे लोक कल्याण से न तो मतलब था नहीं कोई विकास कार्य करते थे। अपने ठेकेदारो के लिए भ्रष्टाचार को बढ़ावा देते रहे।

लेकिन अब ऐसा नहीं होगा भ्रष्टाचारियों के खिलाफ अब सरकार ने कमर कस ली है। मुख्यमंत्री ने कहा कि भ्रष्टाचारियों के रैकेट ने 2017 में प्रदेश की अर्थ व्यवस्था को बुरी तरह से चौपट कर दिया था लेकिन अब उसे पटरी पर लाया जा रहा है। यहीं नहीं रूके सीएम कहा कि उत्तर प्रदेश में दंगा कराने वालो की भी सम्पत्तियों को कुर्क करने का फैसला सरकार ले चुकी है।
विगत पांच वर्ष के कार्यकाल में प्रधानमंत्री मोदी जी के निर्देशन में अपराध और अपराधियों के खिलाफ जीरो टालरेंस उत्तर प्रदेश को दंगा मुक्त प्रदेश बना दिया है।आज यूपी की कानून व्यवस्था पूरे देश में नजीर बन गयी है।यूपी को लोग जहां जाते है सम्मान के नजरिए से देखे जाते है।यूपी के अन्दर नौजवानो को घर और रोजगार देने का काम सरकार ने किया है।जिसका परिणाम है कि सभी संभावनायें यूपी के अन्दर बढ़त पर है। विगत 15 अगस्त को देश के प्रधानमंत्री मोदी जी ने विकसित भारत बनाने के लिए पंच प्रण का जो नारा दिया उत्तर प्रदेश सरकार उसपर अमल करते हुए विकास कार्य में लगी हुई है।
अपने संबोधन में मुख्यमंत्री ने कहा कि आत्म निर्भर भारत के लक्ष्य को प्राप्त करने के लिए अब ग्राम पंचायत और नगर पालिकाओं को आत्मनिर्भर बनना होगा तभी आत्मनिर्भर भारत का सपना पूरा हो सकेगा। जो ग्राम पंचायते आत्म निर्भर बनेगी उसे स्मार्ट ग्राम घोषित कर उसके माडल को पूरे देश में दिखाया जायेगा। आत्मनिर्भर ग्राम पंचायत का मतलब पंचायते खुद से अपनी व्यवस्था करें। इसी तरह नगर पालिकायें और नगर पंचायतें भी आत्मनिर्भर बनने का काम करेगी तभी तो नये भारत का नया यूपी बनाया जा सकेगा।
सीएम योगी ने कहा कि पराधीनता से स्वतंत्र होने बाद आज मोदी जी के नेतृत्व में भारत ने विकास की छलांग लगाते हुए दुनियां की 05वीं अर्थ व्यवस्था बन चुका है। आने वाली सदी में भारत मोदी जी के निर्देशन में दुनियां में नम्बर वन हो जायेगा। देश के लोंगो में सकारात्मक सोच आनी चाहिए अपने गांव और इमानदारी से अपने कर्तव्यो का निर्वहन करे देश तरक्की करेगा।
मुख्यमंत्री ने कानून व्यवस्था का जिक्र करते हुए कहा कि कानून के साथ खिलवाड़ की छूट किसी को नहीं दी जायेगी। प्रदेश के 25 करोड़ जनता के सुरक्षा का दायित्व हमारा कर्तव्य है।इसके बाद जौनपुर की चर्चा करते हुए उन्होंने कहा कि काशी के साथ साथ अब जौनपुर भी अपनी नयी पहचान के साथ आगे बढ़ रहा है। एक फिर मंच से जौनपुर के इत्र और इमरती की चर्चा करते हुए उसकु खुशबू और मिठास की चर्चा किया। साथ ही यह भी कहा कि आत्मनिर्भर ग्राम योजना के तहत अगर कोई व्यक्ति जिसके पास धन सम्पदा है अगर अपनी जमीन पर अपने किसी पूर्वज के नाम अस्पताल कालेज आदि बनवाना चाहता है तो सरकार सहयोग करते हुए उसका शिलापट आदि लगवाने में सहयोग करेगी। उन्होंने कहा उच्च शिक्षा के क्षेत्र में पूर्वांचल विश्वविद्यालय आगे बढ़ रहा है मेडिकल कॉलेज में प्रथम वर्ष का प्रवेश हो गया है सरकार का प्रयास होगा विकास करे एसटीपी प्लांट की चर्चा करते हुए विकास में सहायक बताया।
इस अवसर पर सरकार के खेल युवा कल्याण राज्य मंत्री स्वतंत्र प्रभार गिरीश चन्द यादव ने मुख्यमंत्री का स्वागत करते हुए कहा कि मुख्यमंत्री योगी जी के नेतृत्व में उत्तर प्रदेश विकास की ऊँचाईयों को छू रहा है और नौजवान किसान सभी के जीवन में बदलाव आ रहा है। पांच वर्ष में भाजपा की सरकार ने 05 लाख लोंगो को रोजगार दिया कहीं से घुस आदि की शिकायत नहीं आयी है। यह भी सरकार की बड़ी उपलब्धि है। इस मौके भाजपा के जनप्रतिनिधि गण सांसद मछलीशहर वीपी सरोज, राज्य सभा सदस्य सीमा द्विवेदी ने भी सीएम का स्वागत किया मंच पर विधायक गण रमेश मिश्रा, आर के पटेल तथा पूर्व विधायक गण मौजूद रहे। इस अवसर पर तमाम योजनाओ का पत्र वितरित करते हुए मुख्यमंत्री ने 258 करोड़ रुपए की 116 परियोजनाओ का शिलान्यास एवं लोकार्पण किया है। पूरी व्यवस्था में कमिश्नर आईजी वाराणसी के सहित जिलाधिकारी मनीष कुमार वर्मा, सीडीओ साई सीलम तेजा सहित जिले के सभी एडीएम, एसडीएम और  विकास विभाग में ब्लाक स्तर तक के अधिकरी कर्मचारी जब तक सीएम जौनपुर मे रहे हांफते नजर आये। उनके जाते ही राहत की सांस ली।
‐-----------------------------------------------------------


सीएम के फ्लीट में घुसा सपाई,दिखाया काला झन्डा, सुरक्षा व्यवस्था पर सवाल

जौनपुर। जनपद में आगमन के पश्चात मेडिकल कॉलेज और एसटीपी प्रोजेक्ट के कार्य का सच जानने के लिए जाते समय मेडिकल कॉलेज के पास मुख्यमंत्री के काफिले की फ्लीट के अन्दर पहुंच कर छात्र सपा नेता आशीष यादव उर्फ मुलायम द्वारा मुख्यमंत्री को काला झन्डा दिखाये जाने पर सुरक्षा व्यवस्था को लेकर एक बड़ा सवालिया निशान संबन्धित विभाग पर लग रहा है।शासन इसे कितनी गम्भीरता से लेगा यह तो शासन जाने लेकिन जनमानस इसे सुरक्षा व्यव्स्था में लापरवाही मान रहा है।
खबर है कि आशीष यादव उर्फ मुलायम नामका युवक सीएम की फ्लीट आते ही करीब पहुंच कर काला झन्डा दिखाते हुए मुर्दाबाद का नारा लगाया और अखिलेश यादव जिन्दाबाद के नारे लगाने लगा। उसने अपने बयान में कहा कि मेडिकल कॉलेज अखिलेश यादव की देन है योगी जी श्रेय लेने आये है इसलिए उन्हे काला झन्डा दिखा कर विरोध किया है। हलांकि जैसे ही फ्लीट के पास पहुंच कर आशीष यादव ने काला झन्डा दिखा कर नारा लगाया ड्यूटी पर सुरक्षा कर्मियों ने उसे दबोच लिया और थाना सरायख्वाजा ले गये।
-------------------------------------------------------------


वीआईपी की दीर्घा में महिला कार्यकर्तियों  बैठकर प्रशासन ने भरी सीटें

सरकारी सूत्र के अनुसार सभा स्थल पर 4 हजार कुर्सियां आम जन के लिए लगी थी।मुख्‍यमंत्री के मंचासीन होने के पूर्व वीआईपी दिर्घा में आंगनवाड़ी कार्यकर्तीयों, आशा कार्यकर्तियों तथा समूह की महिलाओ को बैठा कर उसे भरा गया। खबर है कि पूरे जनपद से उपरोक्त महिला कर्मियों को बसों आदि से लाया गया था।जहां तक भीड़ का सवाल है 75 प्रतिशत महिला कार्यकर्तियां रही महज 25 प्रतिशत पुरूष श्रोता रहे है। 

टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

भीषण सड़क दुर्घटना में दस लोगो की मौत दो दर्जन गम्भीर रूप से घायल, उपचार जारी

यूपी में जौनपुर के माधोपट्टी के बाद संभल औरंगपुर जानें कैसे बना आइएएस आइपीएस की फैक्ट्री

जानिए इंटर के छात्र ने प्रधानाचार्य को गोली क्यों मारी, हालत नाजुक, छात्र पुलिस पकड़ से दूर