सेवानिवृती के बाद अब अवनीश अवस्थी को योगी सरकार में मिल सकती है यह अहम जिम्मेदारी


उत्तर प्रदेश के अपर मुख्य सचिव रहे अवनीश कुमार अवस्थी को सेवा विस्तार भले ही न मिला हो लेकिन माना जा रहा है कि जल्द ही उन्हें योगी आदित्यनाथ सरकार द्वारा कोई अहम पद सौंपा जा सकता है।
प्रबल संभावना है कि सेवानिवृत अवनीश अवस्थी को यूपीडा व उपशा का सीईओ बनाया जाए। उल्लेखनीय है कि भारतीय प्रशासनिक सेवा के सेवानिवृत डा. अरुणवीर सिंह यमुना एक्सप्रेसवे अथारिटी (यीडा) के सीईओ के पद पर कार्यरत हैं।
कानून व्यवस्था को लेकर मुख्यमंत्री के एजेंडे को अमली जामा पहनाने में अवस्थी की सक्रियता को देखते हुए कयास लगाये जा रहे थे कि उन्हें सेवा विस्तार मिल सकता है। बुधवार को खासतौर से वरिष्ठ अफसरों के बीच एक ही सवाल तैर रहा था कि क्या अवस्थी को सेवा विस्तार मिल रहा है? यदि नहीं तो कौन उनकी कुर्सी पर बैठेगा?


हां-हां और ना-ना के बीच निगाहें गृह विभाग के शीर्ष पद पर तैनात होने वाले नए अधिकारी के नाम पर भी लगी थीं। यह सस्पेंस बुधवार शाम तब खत्म हुआ जब केंद्र सरकार के इन्कार के बाद अवस्थी के सभी शासकीय दायित्व प्रमुख सचिव मुख्यमंत्री, सूचना व प्रोटोकाल के पद पर तैनात संजय प्रसाद को सौंप दिये गए।
बता दें कि अपर मुख्य सचिव गृह अवनीश कुमार अवस्थी को सेवा विस्तार मिलने की अटकलों पर बुधवार शाम तब विराम लग गया जब केंद्र सरकार के इन्कार के बाद उनके सभी शासकीय दायित्व प्रमुख सचिव संजय प्रसाद को अतिरिक्त प्रभार के तौर पर सौंप दिए गए। 1987 बैच के अधिकारी अवस्थी 31 अगस्त को सेवानिवृत्त हो गए।

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के विश्वासपात्र अधिकारियों में शामिल अवस्थी अपर मुख्य सचिव गृह, गोपन, वीजा पासपोर्ट, कारागार प्रशासन व सुधार, सतर्कता, धर्मार्थ कार्य, ऊर्जा/अतिरिक्त ऊर्जा के साथ सीईओ यूपीडा व उपशा तथा महानिदेशक कारागार के पद पर तैनात थे।
अपर मुख्य सचिव गृह के पद पर वह 31 जुलाई 2019 को तैनात हुए थे। वह इस पद पर तीन साल एक महीना रहे। योगी सरकार की ओर से उनके सेवा विस्तार की अनुशंसा की गई थी जिसे केंद्र ने नहीं माना।


सेवानिवृत्त आइएएस अवनीश कुमार अवस्थी बीते दो दशक में गृह विभाग की सबसे लंबे समय तक कमान संभालने वाले अधिकारी रहे। अवस्थी ने एक अगस्त 2019 में गृह विभाग की कमान संभाली थी और उनका कार्यकाल तीन वर्षों का रहा। वर्ष 2000 से गृह विभाग के किसी मुखिया का इतना लंबा कार्यकाल नहीं रहा है। अवस्थी से पूर्व प्रमुख सचिव, गृह रहे अरविंद कुमार का कार्यकाल दो वर्ष से अधिक रहा। अरविंद कुमार ने 20 मई, 2017 को गृह विभाग की कमान संभाली थी और वह 31 जुलाई, 2019 तक इस पद पर तैनात रहे।

टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

भीषण सड़क दुर्घटना में दस लोगो की मौत दो दर्जन गम्भीर रूप से घायल, उपचार जारी

यूपी में जौनपुर के माधोपट्टी के बाद संभल औरंगपुर जानें कैसे बना आइएएस आइपीएस की फैक्ट्री

जानिए इंटर के छात्र ने प्रधानाचार्य को गोली क्यों मारी, हालत नाजुक, छात्र पुलिस पकड़ से दूर