आईजीआरएस की समीक्षा बैठक में डीएम ने एक्सईएन सिंचाई का जानें क्यों वेतन राकने का दिया आदेश


जौनपुर।जिलाधिकारी मनीष कुमार वर्मा ने कलेक्ट्रेट के सभागार में आईजीआरएस की समीक्षा करते हुए सभी अधिकारियों को निर्देशित किया कि आईजीआरएस की शिकायतों का निस्तारण के उपरांत शिकायतकर्ता से वार्ता अवश्य कर ली जाये।
उन्होंने कहा कि शिकायतों को डिफाल्टर की श्रेणी में न जाने दिया जाए। आईजीआरएस के निस्तारण के लिए समस्त अधिकारी स्वयं प्रतिदिन इसकी निगरानी करें और देखें कि आईजीआरएस पर किस प्रकार की शिकायतें प्राप्त हो रही हैं और उसका निस्तारण समय से और गुणवत्तापूर्ण करें।  
जिलाधिकारी ने एसओसी को निर्देशित किया कि टीम के साथ गांव में जाकर शिकायतों का निस्तारण करें। अधिशासी अभियंता जल निगम के यहां हेल्पलाइन पर ज्यादा शिकायत होने पर नाराजगी व्यक्त करते हुए निर्देशित किया कि एक कंट्रोल रूम स्थापित कर शिकायतों का निस्तारण त्वरित गति से करें। एक्सईएन सिंचाई को बैठक में अनुपस्थित होने पर एक दिन का वेतन रोकने के साथ स्पष्टीकरण लेने का निर्देश दिया। 
जिलाधिकारी ने कोर्ट केस में कंटेंट की समीक्षा की और निर्देशित किया कि जिन विभागों के अधिकारियों द्वारा कोर्ट कंटेंट का निस्तारण नही किया गया है उसको 24 घंटे के अंदर निस्तारण करने का निर्देश दिया अन्यथा की दशा में स्पष्टीकरण देने का निर्देश अपर जिलाधिकारी वि०राजस्व  राम अक्षयबर चौहान को दिया। 
इस अवसर पर अपर जिलाधिकारी भू राजस्व गणेश प्रसाद सिंह, जिला विकास अधिकारी बृजभान सिंह, समस्त उप जिलाधिकारीगण, तहसीलदार, समस्त ई० ओ०, बेसिक शिक्षा अधिकारी डॉ० गोरखनाथ पटेल, जिला विद्यालय निरीक्षक सहित अन्य अधिकारी उपस्थित रहे।

Comments

Popular posts from this blog

जौनपुरिया दूल्हा स्टेज पर पिया गांजा तो दुल्हन ने किया शादी से इन्कार,पुलिसिया हस्तक्षेप के बाद बगैर दुल्हन के लौटे बाराती

एक लाख रुपए घूस लेते हुए लेखपाल चढ़ा एन्टी करप्शन टीम के हाथ पहुंच गया सलाखों के पीछे जेल

सड़क दुर्घटना में सिपाही की मौत विभाग में शोक की लहर