जौनपुर सहित वाराणसी मंडल सहित पूर्वांचल के जिलों में जानें कब उमस और गर्मी से मिलेगी राहत


उत्तर प्रदेश में प्री मानसून की इंट्री हो चुकी है। वाराणसी में भी बीते दिवस कई इलाकों में बारिश ने लोगों को राहत दिलाई है। ऐसे में भारतीय मौसम विज्ञान विभाग IMD ने वाराणसी मंडल सहित आस-पास के जिलों में गरज-चमक और आंधी के साथ बारिश की चेतावनी जारी की है। राजधानी लखनऊ सहित पूरा प्रदेश जून माह में तप रहा था पर तूफान बिपरजॉय के असर से पश्चिमी यूपी में रविवार से बारिश शुरू हुई है जो पूर्वी यूपी में प्री मानसून की दस्तक से पहुंच गई है। हालांकि बुधवार दिन का तापमान झुलसा देने वाला था।
IMD के अनुसार वाराणसी में गुरुवार को अधिकतम तापमान 42 डिग्री रिकार्ड किया गया जो पूर्व में चल रहे तापमान से राहत देने वाला है। इसके अलावा बीती रात न्यूनतम तापमान भी 29 डिग्री था जिससे रातों में गर्मी का एहसास नहीं हुआ।पूर्वांचल में वाराणसी सहित आस-पास के जिलो में लोगों को आज उमस से परेशान होना पड़ेगा क्योंकि IMD के अनुसार आज मौसम में आद्रता 68 प्रतिशत तक जा सकती है, जिससे पसीने वाली गर्मी और उमस ज्यादा होगी।
बीएचयू के मौसम वैज्ञानिक प्रोफेसर मनोज श्रीवास्तव की मानें तो वाराणसी और आस-पास के जिलों में मानसून अमूमन जून के अंतिम सप्ताह में आ जाता है पर इस वर्ष तूफ़ान बिपरजॉय से लेट हुए मानसून के वाराणसी में भी जुलाई के पहले सप्ताह तक प्रवेश करने की उम्मदी है, पर इस वर्ष प्री मानसून अगले एक सप्ताह में अच्छी बारिश करवा सकता है। वाराणसी, जौनपुर, गाजीपुर, आजमगढ़, भदोही, चंदौली सहित आस- पास के जिलों में पिछले दो दिनों से बूंदा-बांदी और कई जगह अच्छी बारिश रिकार्ड की गई है। ऐसे में जल्द ही लोगों को गर्मी से राहत मिलने के आसार हैं।

Comments

Popular posts from this blog

जौनपुर में चुनावी तापमान बढ़ाने आ रहे है सपा भाजपा और बसपा के ये नेतागण, जाने सभी का कार्यक्रम

अटाला मस्जिद का मुद्दा भी अब पहुंचा न्यायालय की चौखट पर,अटाला माता का मन्दिर बताते हुए परिवाद हुआ दाखिल

मछलीशहर (सु) लोकसभा में सवर्ण मतदाताओ की नाराजगी भाजपा के लिए बनी बड़ी समस्या,क्या होगा परिणाम?