विदेशी मैम का देसी गबरू से पहले दोस्ती, फिर प्यार,अब हिन्दू रीति रिवाज से मन्दिर में शादी जानें क्या है चर्चा


सात समंदर पार मैं तेरे पीछे पीछे... वाला गाना आपने जरूर सुना होगा और इस गाने को सही मायने में अनुसरण किया एक विदेशी युवती ने जो देसी गबरू जवान से इश्क करते हुए शादी करने बनारस पहुंच गई। हिंदू रीति रिवाज से जौनपुर स्थित त्रिलोचन महादेव मंदिर में सात फेरे लिए। इस विवाह को देखने बड़ी संख्या में लोग जमा हुए थे। खासतौर पर दुल्हन को देखने हेतु भीड़ लगी रही। दुल्हन भले ही विदेशी रही, लेकिन शादी वैदिक मंत्रों के बीच संपन्न हुआ। मौके पर परिजनों व क्षेत्रीय लोगों ने नव दंपती को आशीर्वाद दिया। दुल्हन ने कहा कि उसे भारतीय संस्कृति से बेहद प्यार है। 
विदेशी युवती से रेस्टोरेंट में मुलाकात, फिर प्यार और अब शादी। ये कहानी है जौनपुर और वाराणसी की सीमा पर स्थित जनपद वाराणसी के ग्राम करखियांव निवासी अखिलेश विश्वकर्मा की है। अखिलेश कतर के एयरवेज में केबिन क्रू (फ्लाइट अटेंडेंट) हैं। अखिलेश के अनुसार फरवरी 2022 में कतर के एक रेस्टोरेंट में बर्थडे पार्टी के दौरान 30 वर्षीय तानिया पॉवलिको से मुलाकात हुई। यह मुलाकात धीरे-धीरे दोस्ती और फिर प्यार में बदल गई।
दोनों ने आगे की जिंदगी साथ गुजारने का फैसला लिया। इस रिश्ते को आगे बढ़ाने के लिए अखिलेश और तानिया ने अपने- अपने परिजनों के सामने शादी का प्रस्ताव रख दिया। खास बात यह है कि दोनों के परिजन भी आसानी से मान गए। इसके बाद दोनों ने बीते एक मार्च को जॉर्जिया में कोर्ट मैरिज कर साथ रहने लगे। भारतीय परंपरा से लगाव होने के कारण उन्होंने दोबारा हिंदू रीति रिवाज से शादी करने का फैसला किया था।
ये वक्त भी आया। दोनों कुछ दिन पहले ही वाराणसी के करखियांव स्थित घर पहुंचे। इसके बाद जौनपुर स्थित त्रिलोचन महादेव मंदिर में परिजनों की मौजूदगी के बीच हिंदू विधि विधान से अग्नि कुंड के साथ फेरे लिए और सात जन्मों के लिए एक हो गए। लाल जोड़े में दुल्हन बनी तानिया पॉवलिको की खुशी का ठिकाना नहीं था।
अखिलेश ने बताया कि तानिया पॉवलिको का जन्म इटली में हुआ। पढ़ाई फिलीपींस में की। अब उसका परिवार अमेरिका में रहता है। हालांकि तानिया फिलीपींस में रहती है। वो वहां इंग्लिश टीचर है। बताया कि उसकी पत्नी हिंदी बोलना सीख रही है। तानिया को भारतीय संस्कृति से प्यार है। यहां की परंपराओं के बारे में जानकर और मेरे परिवार से मिलकर बेहद खुश है। 

Comments

Popular posts from this blog

जिले के पांच प्राथमिक विद्यालयो के औचक निरीक्षण में तीन विद्यालय के मास्टरो को मिली कारण बताओ नोटिस, रोका गया वेतन

स्कूल के आफिस में प्रिसिंपल और टीचर की अश्लील हरकते हुई वायरल,पुलिस क्यों है बेखबर?

परिषदीय विद्यालयो में डिजिटल उपस्थित का शिक्षको के विरोध के बीच अब सीएम योगी का दखल,जानिए जिम्मेदारो को क्या मिला आदेश