अयोध्या में आज रहेगी यूपी की कैबिनेट होगी मंत्रिपरिषद की बैठक,जानें किन किन प्रस्तावो पर होगी चर्चा


मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ आज गुरुवार को कैबिनेट बैठक के लिए सुबह 11 बजे यहां पहुंचेंगे। रामकथा पार्क के हेलीपैड पर उनका हेलीकॉप्टर उतरेगा। लगभग चार घंटे वह रामनगरी में रहेंगे। मुख्यमंत्री अपने मंत्रिमंडल के सहयोगियों के साथ हनुमानगढ़ी का दर्शन पूजन करने के बाद निर्माणाधीन राम जन्मभूमि मंदिर का अवलोकन एवं अस्थायी गर्भगृह में विराजमान रामलला का दर्शन-पूजन करने जाएंगे।
मुख्यमंत्री दोपहर 12 बजे से अंतरराष्ट्रीय रामकथा संग्रहालय में मंत्रिपरिषद की बैठक करेंगे। एक घंटे का समय आरक्षित रखा गया है। कैबिनेट मीटिंग को लेकर मंडलायुक्त गौरवदयाल, आइजी प्रवीण कुमार, जिलाधिकारी नितीश कुमार व एसएसपी राजकरन नय्यर ने रामनगरी के प्रमुख स्थलों पर पहुंच सुरक्षा व्यवस्था व बैठक से संबंधित सभी तैयारियों का जायजा लिया। 
साल 2019 में अर्धकुंभ के अवसर पर प्रयागराज में भी योगी ने मंत्रिपरिषद की बैठक कर मंत्रिमंडल के सहयोगियों के साथ संगम में स्नान किया था। उसी क्रम में रामनगरी में उनकी कैबिनेट की बैठक है। कैबिनेट बैठक के बाद प्रेस ब्रीफिंग दोपहर 12:30 बजे रामकथा पार्क में होगी।
भाजपा सरकार लोकसभा चुनाव को साधने के लिए धर्म, सांस्कृतिक राष्ट्रवाद व विकास पर तेजी से काम कर रही है। 11 नवंबर को अयोध्या में भव्य दीपोत्सव से पहले नौ नवंबर को योगी सरकार की पूरी कैबिनेट यहां बैठेगी। दिन में सवा तीन बजे से यह बैठक रखी गई है।
यहां की बैठक के लिए ऐसे प्रस्तावों को चुना गया है जो धर्म व संस्कृति से जुड़े हुए हैं। ब्रज तीर्थ विकास परिषद की तर्ज पर अयोध्या जी तीर्थ विकास परिषद के गठन का निर्णय यहां पर लिया जाएगा। इसके अध्यक्ष भी मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ होंगे। उपाध्यक्ष सरकार नामित करेगी।
रामनगरी में होने जा रही योगी मंत्रिमंडल की पहली बैठक में शामिल होने होने आ रहे सदस्यों को रामलला का दर्शन कराने के साथ ही नगरी का भ्रमण कराया जाएगा। मंत्रिमंडल के सदस्यों को रामनगरी की आभा से परिचित कराने के साथ ही यहां चल रहे विकास कार्यों को दिखाने के लिए लखनऊ से पांच वातानुकूलित इलेक्ट्रिक बसें बुधवार को अयोध्या आ गई हैं।
इन बसों को नेशनल हाईवे के किनारे स्थित अयोध्या धाम बस स्टेशन पर खड़ा करवा दिया गया है। इन इलेक्ट्रिक बसों की साफ-सफाई के साथ ही व्यवस्थित करने का कार्य बुधवार की शाम शुरू हो गया। मंत्रिमंडल की बैठक के बाद इन्हीं बसों पर सवार होकर सभी सदस्य अयोध्या का भ्रमण करेंगे। प्रशासनिक अधिकारी इसकी तैयारियों में जुटे रहे। मंत्रिमंडल के सदस्यों को जिस रूट से ले जाया जाएगा, उसका निर्धारण किया जा चुका है।

Comments

Popular posts from this blog

पुलिस प्रशासन और दीवानी न्यायालय के न्यायिक अधिकारियों के बीच छिड़ी जंग, न्यायाधीश हुए सुरक्षा विहीन

एंटी करप्शन टीम के हत्थे चढ़ा चपरासी ढाई लाख रुपए घूस ले रहा था चपरासी सहित एसीओ के खिलाफ मुकदमा दर्ज

मछलीशहर (सु) संसदीय क्षेत्र से सांसद बनने के लिए दावेदारो की जाने क्या है स्थित, कौन होगा पार्टी के लिए फायदेमंद