आखिर देवर ने अपने भाभी का गला रेतकर हत्या कर ही दिया, जानें कारण, पुलिस अब जांच पड़ताल में जुटी, हत्यारा फरार


मकान के विवाद को लेकर एक देवर ने अपनी भाभी की चाकू से गला रेत कर हत्या कर दी। चीख सुनकर जब मुहल्ले वाले पहुंचे तो आरोपी मौके से फरार हो गया। लोगों ने घटना की सूचना पुलिस को दी। जिसके बाद चुनार कोतवाली पुलिस मौके पर पहुंची। जानकारी होने पर मृतका के मायके वाले मौके पर पहुंचकर मकान के विवाद में हत्या करने का आरोप लगाते हुए थाने में तहरीर दी। मौके पर जांच करने पहुंचे एएसपी नक्सल ओपी सिंह ने मुकदमा दर्ज कर कार्रवाई का निर्देश दिया है।
मिली खबर के अनुसार जनपद मिर्जापुर स्थित चुनार क्षेत्र निवासी चांद हाशमी तीन भाई है। मुंबई में रहकर गाड़ी चलाता है। उसका सबसे छोटा भाई फिरोज परिवार के साथ मुंबई रहता है। दूसरे नंबर का भाई जावेद पैतृक मकान के एक हिस्से में रहता था। दूसरे हिस्से में चांद की पत्नी रोजी (40) रहती थी। जिस मकान में रोजी रहती थी। जावेद उस पर कब्जा करना चाहता था। इसे लेकर कई बार विवाद किया था।  
वर्ष के अन्तिम दिन रविवार की सुबह भी इसी बात को लेकर दोनों के बीच विवाद हुआ। रोजी ने पुलिस को फोन कर सूचना दी।मौके पर पहुंची पीआरवी पुलिस जावेद को जमुई पुलिस बुथ ले गई। आरोप है कि बिना कार्रवाई उसे छोड़ दिया गया। इसके बाद पुलिस बुथ से घर लौटने के बाद जावेद सीधा रोजी के कमरे में गया और चाकू से गला रेत दिया। इस दौरान रोजी अपनी जिंदगी का भीख मांगती रही, लेकिन उसका दिल नहीं पसीजा। आवाज सुनकर मुहल्ले के लोग दौड़कर पहुंचे तो जावेद हत्या कर फरार हो गया। कमरे में खुन से लथपथ रोजी को देख लोगों ने पुलिस और मायके वालों को सूचना दिया। 
चुनार कोतवाल नरेंद्र सिंह मौके पर पहुंचे। इसके बाद सीओ चुनार उमाशंकर सिंह और एएसपी नक्सल ओपी सिंह मौके पर पहुंचकर जांच-पड़ताल की। मृतका रोजी के भाई वली मोहम्मद और सादिल निवासी पनियरा थाना राजातालाब वाराणसी पहुंचे। वली मोहम्मद ने मकान कब्जे के विवाद में जावेद और उसकी मां बीबी बेगम पर बहन रोजी की हत्या का आरोप लगाया। पुलिस शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज कर आरोपी जावेद और उसकी मां बीबी बेगम पर मुकदमा दर्ज कर तलाश में जुटी है। घटना की जानकारी मिलने पर रोजी का पति चांद मुंबई से घर के लिए रवाना हुआ है।
एएसपी नक्सल ओपी सिंह ने कहा कि महिला रोजी घर में अकेले रहती थी। देवर जावेद का मकान सामने है। उसका रोजी से आए दिन विवाद होता रहता था। शनिवार के बाद रविवार की सुबह भी विवाद हुआ था। जिसके बाद जावेद ने रोजी की हत्या कर दी। मृतका के भाई ने मकान विवाद को लेकर हत्या करने का आरोप लगाया। जिस पर आरोपी और उसकी मां पर हत्या का मुकदमा दर्ज कर जांच की जा रही है। खबर जारी किए जाने तक हत्यारा जावेद पुलिस पकड़ से दूर बताया जा रहा है।

Comments

Popular posts from this blog

पुलिस प्रशासन और दीवानी न्यायालय के न्यायिक अधिकारियों के बीच छिड़ी जंग, न्यायाधीश हुए सुरक्षा विहीन

एंटी करप्शन टीम के हत्थे चढ़ा चपरासी ढाई लाख रुपए घूस ले रहा था चपरासी सहित एसीओ के खिलाफ मुकदमा दर्ज

मछलीशहर (सु) संसदीय क्षेत्र से सांसद बनने के लिए दावेदारो की जाने क्या है स्थित, कौन होगा पार्टी के लिए फायदेमंद