दुष्कर्म के आरोपी अपर पुलिस अधीक्षक हुए सस्पेंड, विभागीय जांच शुरू जमम



दुष्कर्म के आरोपी एडिशनल एसपी राहुल श्रीवास्तव को सस्पेंड कर दिया गया है। विभागीय जांच के भी आदेश दिए गए हैं। गोमतीनगर थाने में पांच जनवरी की रात यूपी पुलिस के सोशल मीडिया प्रभारी एएसपी राहुल श्रीवास्तव पर एक छात्रा ने दुष्कर्म व गर्भपात कराने की धारा में एफआईआर दर्ज कराई थी। एएसपी की स्थाई तैनाती एटीएस में थी। 
छात्रा का आरोप था कि सिविल सर्विसेज परीक्षा की तैयारी करवाने के नाम पर राहुल ने उसको होटल में बुलाया। नशीला पदार्थ खिलाकर उसके के साथ दुष्कर्म किया। अश्लील फोटो क्लिक किए। जिसके जरिये ब्लैकमेल कर कई बार दुष्कर्म किया। अप्रैल 2023 में जब वह गर्भवती हुई तो जबरन गर्भपात करवा दिया। एफआईआर दर्ज होने के बाद निलंबन की कार्रवाई न होने पर पीड़िता ने सवाल उठाए थे। अंदेशा जताया था कि राहुल केस की विवेचना प्रभावित कर सकते हैं। शासन ने इसका संज्ञान लेते हुए अब राहुल को निलंबित कर दिया है। उनके खिलाफ विभागीय जांच के भी आदेश दिए गए हैं। उन पर और शिकंजा कसना तय है।
पुलिस सूत्रों के मुताबिक पीड़िता ने जो बयान दिए उसमें बताया कि लखनऊ के चार बड़े होटल में लेकर आरोपी ने उसके साथ दुष्कर्म किया। वाराणसी और दिल्ली में भी एक एक होटल में उसको ले गया। पुलिस संबंधित होटलों में संपर्क कर फुटेज व अन्य डिटेल जुटाने की जद्दोजहद में जुटी है।
पीड़िता का आरोप है कि आरोपी व उसके साथी विनय खंड स्थित एक क्लीनिक पर ले गए थे। जहां पर उसका गर्भपात कराया गया। एक डायग्नोस्टिक सेंटर भी है। पुलिस क्लीनिक व डायग्नोस्टिक सेंटर से भी साक्ष्य जुटा रही है। मामले में मुख्य आरोपी का साथ में दो पुलिस वालों के अलावा एक दो और लोगों के नाम पीड़िता ने बताए हैं। उनकी भी भूमिका जांची जा रही है।

Comments

Popular posts from this blog

डीएम जौनपुर ने चार उप जिलाधिकारियों का बदला कार्यक्षेत्र जानें किसे कहां मिली नयी तैनाती देखे सूची

पुलिस भर्ती परीक्षा पेपर लीक मामले में जौनपुर की अहम भूमिका एसटीएफ को मिली,जानें कहां से जुड़ा है कनेक्शन

जौनपुर में आधा दर्जन से अधिक थानाध्यक्षो का हुआ तबादला,एसपी ने बदला कार्य क्षेत्र