मौसम विभाग का अलर्ट:उत्तर प्रदेश के अन्दर रविवार को इन जिलो में तुफानी चक्रवात की संभावना



उत्तर प्रदेश के कुछ जिलो में शनिवार को मौसम बदला-बदला सा रहा। शनिवार सुबह से ही प्रदेश के पूर्वांचल एवं पश्चिमी दोनों हिस्सों में धूल भरी तेज झोंकेदार हवाओं के साथ कहीं हल्की तो कहीं मध्यम बारिश देखने को मिली। कई इलाकों में तो हवा की रफ्तार 40 से 50 किमी प्रति घंटा तक दर्ज की गई। अचानक बदले इस मौसम से लोगों को परेशानियों का सामना करना पड़ा। झोंकेदार हवाओं की वजह से कई जगह पेड़ धराशायी हो गए। तापमान में हल्की गिरावट होने से लोगों को उमस से राहत मिली।
वरिष्ठ मौसम वैज्ञानिक अतुल कुमार सिंह ने बताया कि प्रदेश के पश्चिमोत्तर भाग पर बने चक्रवाती परिसंचरण और बंगाल की खाड़ी से आ रही नमीयुक्त पुरवा हवाओं और पश्चिमी विक्षोभ के प्रभाव से पूर्वी यूपी में रविवार तक, जबकि पश्चिमी यूपी में सोमवार को भी गरज चमक और तेज हवा के साथ हल्के से मध्यम बारिश की संभावना है। उन्होंने बताया कि सोमवार के बाद प्रदेश का मौसम शुष्क रहने और तापमान में बढ़ोत्तरी की संभावना है|
इन इलाकों में तेज हवा की चेतावनी
 मौसम विभाग की ओर से प्रदेश के वाराणसी, आजमगढ़, जौनपुर, मऊ, बलिया, देवरिया, गोरखपुर, संतकबीर नगर, बस्ती, कुशीनगर, महाराजगंज, सिद्धार्थनगर समेत गोंडा, बलरामपुर, श्रावस्ती, बहराइच, लखीमपुरखीरी, सीतापुर, बाराबंकी, अयोध्या, अम्बेडकर नगर, मथुरा, हाथरस, आगरा, फिरोजाबाद, इटावा एवं आस पास के क्षेत्रों में रविवार को भी गरज व चमक के साथ 30 से 40 किमी प्रति घंटा के रफ्तार से तेज हवाएं चलने की चेतावनी जारी की गई है।
पश्चिमी यूपी में बारिश के आसार
पश्चिमी यूपी के बागपत, मेरठ, गाजियाबाद, हापुड़, गौतमबुद्ध नगर, बुलंदशहर, अलीगढ़, मथुरा, हाथरस, कासगंज, एटा, आगरा, फिरोजाबाद, मैनपुरी, इटावा और औरैया जिले में आज भी गरज चमक के साथ बारिश के आसार हैं। वहीं बिजनौर, अमरोहा, मुरादाबाद, रामपुर, बरेली, पीलीभीत, शाहजहांपुर, संभल, बदायूं, हमीरपुर, महोबा, झांसी, ललितपुर व आसपास के इलाकों में तेज हवा व गरज के साथ बारिश की संभावना जताई जा रही है। कुछ जगहों पर बिजली गिरने की भी संभावना जताई गई है।

Comments

Popular posts from this blog

जौनपुर में चुनावी तापमान बढ़ाने आ रहे है सपा भाजपा और बसपा के ये नेतागण, जाने सभी का कार्यक्रम

अटाला मस्जिद का मुद्दा भी अब पहुंचा न्यायालय की चौखट पर,अटाला माता का मन्दिर बताते हुए परिवाद हुआ दाखिल

मछलीशहर (सु) लोकसभा में सवर्ण मतदाताओ की नाराजगी भाजपा के लिए बनी बड़ी समस्या,क्या होगा परिणाम?