चौकी प्रभारी की मिली भगत से दबंगो ने सरे आम की गुन्डई

जौनपुर।  अपराध और अपराधियों पर लगाम लगाने वाली पुलिस पर गैर कानूनी तरीके से एक महिला का निर्माणाधीन मकान का कार्य रोकने का आरोप लगा है। इतना ही नही मकान बनाने के लिए लगाये गये बास बल्लियों को उखाड़ फेकने के साथ ही महिला को गाली गलौज देने का मामला समाने आया है। यहा मामला कही दूर दराज के इलाके में नही बल्की नगर के लाइनबाजार थाने से चंद कदम की दूरी पर स्थित लखनऊ-वाराणसी हाईवे पर मतापुर मोहल्ले का है। पीड़ित महिला ने एसपी से मिलकर न्याय की गुहार लगायी है। 
लाइनबाजार थाना क्षेत्र के जनकीपुरम कालोनी मतापुर की निवासी निशा सिंह पत्नी अनंद कुमार सिंह ने आरोप लगायी है कि मै मकान का बारजा बनवाने के लिए सटरिंग करवा रही थी। दिन में करीब 11 से 12बजे की बीच जफराबाद निवासी नेता यादव,संजय यादव और उनके पुत्र अजय यादव मेरी सटरिंग को तोड़कर गिरा दिया मुझे गालियां भी दी। निशा ने आरोप लगाया कि उनके साथ मियांपुर के चैकी प्रभारी सदानंद सिंह भी मिले हुए है। घटना के बाद मेरे पति घर पहुंचे तो चैकी प्रभारी उन्हे थाने पर ले गये। निशा ने बताया कि संजय यादव सुल्तानपुर में सिपाही के पद कार्यरत है जिसके कारण चैकी प्रभारी उनका साथ दे रहे हे। निशा ने आशंका जतायी है कि जल्द ही पुलिस अधिकारियों ने इस ध्यान नही दिया तो मेरे साथ कोई घटना घट सकती है।

Comments

Popular posts from this blog

पुलिस प्रशासन और दीवानी न्यायालय के न्यायिक अधिकारियों के बीच छिड़ी जंग, न्यायाधीश हुए सुरक्षा विहीन

मछलीशहर (सु) संसदीय क्षेत्र से सांसद बनने के लिए दावेदारो की जाने क्या है स्थित, कौन होगा पार्टी के लिए फायदेमंद