बेरोजगारो के लिए खुश खबरी: जल निगम में जेई से लेकर क्लर्क तक की होने जा रही है बड़ी भर्ती



जल निगम में तकनीकी स्टाफ की बड़ी कमी को दूर करने की कवायद शुरू हो गई है। अभियंताओं के 740 व लिपिक संवर्ग 100 पदों पर भर्ती के लिए शासन को प्रस्ताव भेजा गया है। यह भर्तियां उप्र लोक सेवा आयोग व उप्र अधीनस्थ सेवा चयन आयोग के माध्यम से की जाएंगी। जल निगम में कुल 13,317 पदों में 4,300 पद खाली चल रहे हैं। इसमें ज्यादातर अभियंताओं, लिपिकीय वर्ग व वित्त विभाग के पद हैं। सबसे ज्यादा कमी अवर अभियंताओं की है। कुल 2,517 पदों में 1,544 खाली पड़े हैं। महज 953 अवर अभियंता ही कार्यरत हैं। सहायक अभियंताओं के 797 पदों में 209 खाली हैं। इसी तरह अधिशासी अभियंता के 194 में 88 व अधीक्षण अभियंताओं के 151 पदों में 116 पद रिक्त पड़े हैं। अगले पांच वर्षों में 2,045 पद और रिक्त हो जाएंगे। इससे तकनीकी स्टाफ की और कमी हो जएगी।

जल निगम के प्रबंध निदेशक अनिल कुमार (तृतीय) ने बताया कि तकनीकी स्टाफ की कमी को पूरा करने के लिए वर्ष 2021-22 के लिए सहायक अभियंता (सिविल) के 80 व सहायक अभियंता (विद्युत/यांत्रिक) के 18 कुल 98 पदों तथा अवर अभियंता (सिविल) के 518 व अवर अभियंता (विद्युत/यांत्रिक) के 124 पदों कुल 642 पदों पर लोक सेवा आयोग से भर्ती के लिए प्रस्ताव शासन को भेज दिया गया है। इसी तरह कनिष्ठ सहायक संवर्ग में मुख्यालय के रिक्त 65 पदों तथा क्षेत्रीय संवर्ग के रिक्त 35 पदों पर अधीनस्थ सेवा चयन आयोग से भर्ती का प्रस्ताव भेजा गया है। शासन से अनुमति मिलते ही भर्ती की अगली प्रक्रिया शुरू की जाएगी।

कर्मचारियों को दिसम्बर माह तक वेतन दिया
वेतन के लिए आंदोलित कर्मचारियों को राहत मिली है। प्रबंध निदेशक ने बताया कि विभिन्न विभागों पर 1846 करोड़ रुपए सेंटेज बकाया है। पिछले दिनों 229.01 करोड़ रुपए प्राप्त हुए हैं। इसमें से 214.62 करोड़ रुपए कर्मचारियों के वेतन व पेंशन पर खर्च कर दिया गया है। इससे दिसम्बर माह तक का बकाया भुगतान हो गया है। शेष तीन माह का भुगतान भी शीघ्र कर दिया जाएगा।

टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

मुम्बई से आकर बदलापुर थाने में बैठी प्रेमिका, पुलिस को प्रेमी से मिलाने की दी तहरीर, पुलिस पर सहयोग न करने का आरोप

आइए जानते है कहां पर बारिश के दौरान आकाश से गिरी मछलियां, ग्रामीण रहे भौचक

पूर्वांचल की राजनीति का एक किला आज और ढहा, सुखदेव राजभर का हुआ निधन