कोरोना वायरस का बढ़ता संक्रमण रद्द करा सकता है बोर्ड की परीक्षा,उठ रही है मांग



देशभर में कोरोना के मामले दिन प्रतिदिन दिन बढ़ते जा रहे हैं। ऐसे में सरकार से बोर्ड परीक्षा को रद करने या स्थगित करने का अनुरोध किया जा रहा है। ट्विटर पर हैशटैग कैसिंल बोर्ड एग्जाम 2021 से एक अभियान छेड़ा गया है। जो काफी तेजी से ट्रेंड कर रही है। कई यूजर्स ने कहा कि कोरोना की बेकाबू रफ्तार को देखते हुए महाराष्ट्र में 10वीं और 12वीं की परीक्षा को रद कर दिया जाना चाहिए। 
राज ठाकरे कहा-10वीं और 12वीं के छात्रों को भी सीधे पास किया जाए 
महाराष्ट्र और मुंबई में कोरोना का खतरा लगातार तेजी से बढ़ रहा है। ऐसे में स्कूली शिक्षा विभाग की मंत्री वर्षा गायकवाड़ ने पहली से लेकर आठवीं तक के छात्रों को बिना परीक्षा पास करने का फैसला लिया। अब इसी कड़ी में मनसे अध्यक्ष राज ठाकरे ने मांग की है कि 10वीं और 12वीं के छात्रों को भी सीधे पास किया जाना चाहिए।एमएनएस चीफ ने कहा कि कोरोना का खतरा लगातार बढ़ रहा है। इसका अंदाजा होने के बाद भी महानगरपालिका और सरकार ने इस संदर्भ में कोई ठोस कदम नहीं उठाया है।
यूपी में टल सकती है बोर्ड परीक्षा की तिथि 

कोरोना वायरस के बढ़ते मामले व पंचायत चुनाव की अधिसूचना जारी होने के साथ ही बिल्कुल साफ हो गया है कि यूपी बोर्ड की हाईस्कूल व इंटरमीडिएट की परीक्षाएं अब 24 अप्रैल से नहीं होंगी। चुनावी बिगुल बजने के साथ ही नई स्कीम बनाने का काम शुरू हो गया है। मई के पहले हफ्ते से बोर्ड परीक्षाएं शुरू करने की तैयारी है। नया परीक्षा कार्यक्रम जल्द घोषित हो सकता है। उप मुख्यमंत्री डॉ. दिनेश शर्मा ने बताया कि पंचायत चुनाव के कारण यूपी बोर्ड की हाईस्कूल व इंटरमीडिएट की परीक्षाएं अब 24 अप्रैल से शुरू नहीं होंगी। दो मई को पंचायत चुनाव की मतगणना के बाद ही परीक्षा कराने की तारीख तय की जाएगी। 

टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

प्रातः काल तड़तड़ाई गोलियां, बदमाशों ने अखिलेश यादव की कर दिया हत्या,ग्रामीण जनों में घटना को लेकर गुस्सा

सीएम योगी का चुनावी वादा बिजली बिल बकाये को लेकर दिया यह आदेश

आज से लगातार 08 दिनों तक बैंक रहेंगे बन्द जानें इस माह में कितने दिवस होगे काम काज