आइए जानते है मां कैसे बन गयी अपने पुत्र की हत्यारिन, अब कानूनी पचड़े में फंसी


मां अक्सर अपने बच्चों को डांटती मारती रहती हैं। लेकिन पुत्र की हत्यारिन नहीं बनना चाहेगी लेकिन कुछ घटनाये ऐसी भी घटती है जो मां के जीवन में हमेशा सालती रह सकती है यहां भी ऐसा ही कुछ हो गया है मामूली बात पर एक मां ने बेटे को डंडा मारा तो वह डन्डा उसका काल बन गया। बेटे की तत्काल मौत हो गई इस हादसे से मां का बुरा हाल है वह बेटे की लाश पर फूट फूटकर रोए जा रही है। किसी तरह मां को अलग कर पुलिस ने मृत बेटे का शव पंचनामा कर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है।
मामला लालगंज थाना क्षेत्र के उत्तरा गौरी गांव का है। यहां रामकुमार नाम का किसान अपनी पत्नी कलावती और चौबीस वर्षीय बेटे रवि शंकर के साथ रहता है। खेती ज़्यादा न होने और पिता की वृद्धावस्था के चलते घर की आर्थिक स्थिति ठीक नहीं है। कोरोनाकाल के बाद से ही बेटा विजय भी बेरोज़गारी का शिकार था, घर में खाली बैठने की वजह से मां कलावती उसे अक्सर ताना मारा करती थी।
आज फिर मां कलावती ने बेटे रविशंकर को कामकाज के लिए जाने को कहा, तो उसने पलटकर मां को जवाब दे दिया। जवाब से नाराज़ मां ने उसे पास में पड़े लकड़ी के डंडे को हाथ में लेकर दौड़ा लिया। बेटा भागा लेकिन फिर मां की उमर का ख्याल कर अचानक रुक गया। लेकिन तबतक मां के हाथ से डंडा चल चुका था और डंडा धोखे से उसके बेटे के सिर पर लग गया। डंडा लगते ही बेटा वहीं मूर्छित होकर गिर गया और उसकी तत्काल मौत हो गई।
इस अप्रत्याशित घटना से मां बदहवास हो गई। उसका रो रोकर बुरा हाल है। उधर सूचना पाकर मौके पर पहुंची पुलिस शव को कब्ज़े में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है। वहीं सीओ लालगंज अंजनी चतुर्वेदी ने बताया कि एक सूचना मिली थी कि उतरा गौवरी गांव के 24 वर्षीय युवक की उसकी माँ द्वारा डंडे से मारने पर मौत हो गई है। पुलिस पूरे मामले की जाँच कर रही है। शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है। बाकी तहरीर मिलने पर विधिक कार्रवाई आगे की जाएगी।

टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

प्रातः काल तड़तड़ाई गोलियां, बदमाशों ने अखिलेश यादव की कर दिया हत्या,ग्रामीण जनों में घटना को लेकर गुस्सा

मुम्बई से आकर बदलापुर थाने में बैठी प्रेमिका, पुलिस को प्रेमी से मिलाने की दी तहरीर, पुलिस पर सहयोग न करने का आरोप

आइए जानते है कहां पर बारिश के दौरान आकाश से गिरी मछलियां, ग्रामीण रहे भौचक