मुकदमा लिखाने गये मां बेटा को गाली देने वाला दरोगा हुआ लाइन हाजिर, घटना से पुलिस की छवि पर लगा प्रश्न चिन्ह

 



जौनपुर। थाने बक्शा में तैनात दरोगा मुकदमा दर्ज कराने आये पीड़ित को गाली देने का विडियो वायरल होने के बाद पुलिस की पिटती भद्द देख पुलिस अधीक्षक अजय साहनी ने गाली देने वाले दरोगा मनोज कुमार सिंह को लाइन हाजिर करते हुए प्रकरण की जांच अपर पुलिस अधीक्षक को सौंप दिया है। हलांकि इस घटना ने एक बार फिर जनपद में पुलिस की कार्यशैली पर प्रश्न वाचक चिन्ह लगाया है। पीड़ित ने भी इस मामले को उच्चाधिकारियों तक पहुंचाने की बात किया है। 

यहां बता दें कि विगत 04 दिसम्बर 21 को थाना क्षेत्र के ग्राम बबुरा निवासी राजेन्द्र प्रसाद यादव 45 साल नामक व्यक्ति ने अपने घर पर फांसी लगाकर आत्म हत्या कर लिया था। घटना के पश्चात थाना प्रभारी ने लाश का पोस्टमार्टम कराया,मृतक के पुत्र आशीष यादव ने अपने पिता को आत्म हत्या के लिए उकसाने का आरोप गांव के एक व्यक्ति पर लगाया। उसका कथन है कि पिता राजेन्द्र यादव ने गांव के एक व्यक्ति को अपनी जमीन बेचा था वह जमीन का पैसा नहीं दिया था इसी को लेकर पिता तनाव में थे और आत्म हत्या कर लिये है। 

पीड़ित परिवार ने बीते 13 दिसम्बर 21 को थाने पर मुकदमा लिखने के लिए तहरीर दिया था पुलिस उस तहरीर पर मुकदमा नहीं लिखी फिर 18 दिसम्बर 21 को पीड़ित से तहरीर लिया दूसरे दिन यानी 19 दिसम्बर को बुलाया था। पीड़ित आशीष यादव और उसकी मां थाने पर आयी थी। काफी देर बैठने के बाद जब आशीष ने मुकदमा न लिखने का कारण पूंछा तो थाने पर मौजूद दरोगा मनोज कुमार सिंह भड़क गये और पीड़ित को गालियां देने लगे। दरोगा के गाली का वीडियो वायरल हुआ और पुलिस की किरकिरी होने लगी तो पुलिस अधीक्षक ने दरोगा मनोज कुमार सिंह को लाइन हाजिर कर दिया और मामले की जांच एसपी ग्रामीण को दिया है। इस पूरे घटना और वायरल वीडियो के बाबत थाना प्रभारी दिव्य प्रकाश सिंह से बात करने पर उन्होंने वीडियो के बिषय अनभिज्ञता जता रहे है तो पुलिस अधीक्षक की कार्रवाई पर कहते है जांच चल रही है। 


यहां सवाल यह खड़ा होता है कि एक तरफ सरकार गुड गवर्नमेंट की बात कर रही तो दूसरी ओर सरकार के अधीन कार्यरत पुलिस सुधरने का नाम नहीं ले रही है लगाकर ऐसा काम कर रही है कि पुलिस विभाग सहित सरकार की छवि पर प्रतिकूल प्रभाव पड़ रहा है। 

टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

जौनपुर में आज फिर तड़तड़ायी गोलियां एक की मौत दूसरा घायल पहुंचा अस्पताल,छानबीन मे जुटी पुलिस

बिजली कर्मियों हड़ताल को देख, वितरण व्यवस्था संचालन हेतु नोडल और सेक्टर अधिकारी नियुक्त

जानिए मुर्गा काटने के दुकान से कैसे मिला गुड्डू की लाश,पुलिस कर रही है जांच