आखिर पिता ने पुत्री की हत्या करने बाद खुद को गोली मारकर जीवन लीला क्यों की समाप्त


एक पिता ने अपने बेटी की हत्याकर खुद को गोली मारकर अपनी जीवन लीला समाप्त कर लिया है। अब सवाल यह उठता है कि आखिर इस घटना के पीछे कहांनी क्या हो सकती है। जी हां जनपद फरूखाबाद में शहर के याकूतगंज के मोहल्ला पसार गड्ढा में गुरुवार की सुबह हुई घटना ने लोगों को दहला दिया। यहां मिठाई कारीगर ने बेटी की गोली मारकर हत्या के बाद खुद को भी गोली मारकर जान दे दी। घटना के बाद मोहल्ले में सनसनी फैल गई और पुलिस ने घटनास्थल पर पहुंचकर पड़ताल शुरू की है। पुलिस इस बात का पता लगा रही है कि आखिर पिता ने बेटी को गोली क्यों मारी।


याकूतगंज के मोहल्ला पसार गड्ढा में मिठाई कारीगर प्रमोद कुमार राजपूत उर्फ मौधू परिवार के साथ रह रहे थे। गुरुवार सुबह करीब 10 बजे प्रमोद ने बंदूक से 15 वर्षीय पुत्री मुस्कान की पीठ पर गोली मार कर हत्या कर दी और फिर खुद को भी गोली मार ली। फायरिंग की आवाज सुनकर बॉथरूम से पत्नी मिथलेश बाहर निकलीं तो बेटी और पति को खून से लथपथ पड़ा देख कर चीख पड़ीं। उनका शोर सुनकर परिवार के सदस्य भी आ गए। इस बीच मुस्कान और प्रमोद ने दम तोड़ दिया था।


वारदात की जानकारी होते ही मोहल्ले के लोगों में सनसनी फैल गई और पुलिस को सूचना दी गई। माैके पर पहुंचे क्षेत्राधिकारी प्रदीप सिंह, फतेहगढ़ कोतवाली प्रभारी जेपी पाल ने घटना के संबंध में स्वजन से पूछताछ की। पुलिस ने तमंचा और खाली कारतूस बरामद किए है। कुछ देर बाद एएसपी अजय प्रताप ने भी घटनास्थल पर पहुंचकर पूछताछ की। फोरेंसिक टीम बुलाकर भी जांच कराई गई है।
प्रमोद के भाई दिलीप कुमार राजपूत ने बताया कि मिठाई की दुकान किए थे। उन पर काफी कर्ज हो गया था। मऊदरवाजा थाने में प्रमोद के खिलाफ धोखाधड़ी का मुकदमा दर्ज था और उसमें वारंट जारी हो चुका था। इससे प्रमोद की मानसिक स्थिति ठीक नहीं थी। प्रमोद के परिवार में पत्नी मिथलेश, 15 वर्षीय पुत्री मुस्कान, 7 वर्षीय पुत्र अंश थे। मुस्कान वीपी अग्रवाल शिक्षा सदन में कक्षा 8 की छात्रा थी। इस स्कूल में अंश भी पढ़ता है। घटना के समय अंश घर के बाहर खेल रहा था। 

टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

हर रात एक छात्रा को बंगले पर भेजो'SDM पर महिला हॉस्टल की अधीक्षीका ने लगाया 'गंदी डिमांड का आरोप; अधिकारी ने दी सफाई

यूपी कैबिनेट की बैठक में जौनपुर की इस नगर पालिका के विस्तार का प्रस्ताव स्वीकृत

जफराबाद विधायक का खतरे से बाहर डाॅ गणेश सेठ का सफल प्रयास, लगा पेस मेकर