छात्रों ने रैली निकाल कर किया रक्तदान के प्रति जागरूक

जौनपुर।आज़ादी के अमृत महोत्सव के उपलक्ष्य में जनपद जौनपुर के केराकत तहसील के अंतर्गत मुफ्तीगंज स्थित डॉ राम मनोहर लोहिया राजकीय महाविद्यालय में स्वैच्छिक शौर्य रक्तदान शिविर का भव्य आयोजन किया जा रहा है। 15 अगस्त स्वतंत्रता दिवस के उक्त अवसर पर देश के सैनिकों के सम्मान में अयोजित रक्तदान उत्सव में लगभग 600 रक्तदाताओं के रक्तदान की प्रबल संभावना जताई जा रही है।
डॉ राम मनोहर लोहिया राजकीय महाविद्यालय के प्राचार्य जयप्रकाश पाठक  के तत्वावधान में महाविद्यालय के सैकड़ों छात्र-छात्राओं ने रैली निकाल कर क्षेत्रीय जनमानस में रक्तदान के प्रति जागरूकता लाने हेतु पैदल चलकर नारे लगाते हुए बैनर के साथ रक्तदान के प्रति निडरता लाने का प्रयास किया।


उक्त अवसर पर स्वैच्छिक शौर्य रक्तदान शिविर के आयोजक विकास तिवारी ने कहा कि युवा ही देश के भविष्य है और इन्ही युवाओं के दम पर देश की दिशा व दशा तय की जाती है। भारत में प्रति वर्ष 15 लाख मरीजों की रक्त के अभाव में मृत्यु हो जाती है भारत में आबादी का कुल 1% ही रक्त दान हो पाता है जबकि आबादी का कुल 2 % रक्तदान हो जाए तो देश में रक्त की कमी को पूरा किया जा सकता है,और एक भी मरीज़ की रक्त के अभाव में मृत्यु नहीं होगी। विश्व स्वास्थ्य संगठन से प्राप्त आंकड़ों के अनुसार देश के केवल चार राज्यों में जरूरत के अनुसार रक्त की पूर्ति हो पाती है जिसमे महाराष्ट्र, केरल, तमिलनाडु,पश्चिम बंगाल प्रमुख रूप से शामिल है।
उन्होंने कहा कि हमारा प्रयास है कि शहरी क्षेत्र के अलावा ग्रामीण क्षेत्रों में भी रक्तदान के प्रति अधिक से अधिक युवाओ को जागरूक किया जा सके, उन्होंने युवावों से अपील की है कि स्वतंत्रता दिवस के साथ साथ आज़ादी के अमृत महोत्सव के इस महान पर्व पर देश के सैनिको के सम्मान में आयोजित किये गए स्वैछिक शौर्य रक्तदान शिविर में बढ-चढकर हिस्सा ले जिससे देश के सबसे बड़े राज्य उत्तर प्रदेश को भी उपरोक्त चार राज्यों के क्षेणी में शामिल किया जा सके।
 उक्त अवसर पर संदीप द्विवेदी, अतुल सिंह, डॉ अब्बासी, तुषार श्रीवास्तव, हरिओम सहाय, अजय राय, बेचन सोनकर, अभय राज समेत सैकड़ो छात्र व छात्राये उपस्थित रहे।

टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

भीषण सड़क दुर्घटना में दस लोगो की मौत दो दर्जन गम्भीर रूप से घायल, उपचार जारी

यूपी में जौनपुर के माधोपट्टी के बाद संभल औरंगपुर जानें कैसे बना आइएएस आइपीएस की फैक्ट्री

जानिए इंटर के छात्र ने प्रधानाचार्य को गोली क्यों मारी, हालत नाजुक, छात्र पुलिस पकड़ से दूर