जौनपुर के सादीपुर ग्राम सभा में पीडब्लूडी के अधिकारी की दादागिरी से ग्रामीण हुए त्रस्त, प्रशासन से लगाई न्याय की गुहार

जौनपुर। जनपद के विकास खण्ड सिरकोनी क्षेत्र स्थित सादीपुर ग्राम सभा में पीडब्लूडी विभाग की दादागिरी इन दिनो देखने को मिल रही है। विभाग में सीडी 2 के अधिशासी अभियन्ता द्वारा सभी नियम कानून और हाईकोर्ट के आदेश को दरकिनार करते हुए भूमिधरी जमीन एवं जंगल खाते की जमीन पर बगैर अधिग्रहण की कार्रवाई किए ही जबरिया सड़क का निर्माण कराया जा रहा है। हलांकि विभाग की इस गुण्डयी पूर्ण कार्रवाई के खिलाफ पीड़ित अब पुन: हाईकोर्ट की शरण में जाने को मजबूर हो गये है।
यहां बता दे कि ग्राम सभा के ग्राम वासी अशोक कुमार सिंह एवं ऋषिराज दूबे ने पीडब्लूडी विभाग के अधिकारी की जबरदस्ती के खिलाफ हाईकोर्ट के आदेश के साथ उप जिलाधिकारी सदर के यहां शिकयती पत्र दिया जिसमें कहा कि उसकी जमीन आराजी नम्बर 1640 ख, 1640ङ, 1640 ज,1643, 1797, 2157, 1962, 1959 आदि से जबरिया पीडब्लूडी द्वारा सड़क बनाया जा रहा है जबकि हाईकोर्ट ने विगत माह रिट संख्या  31252 /23 से 21-9-23 को आदेश दिया कि भूमिधरी जमीन पर बने सड़क को तत्काल हटवाया जाए। एसडीएम ने विभाग को हाईकोर्ट के आदेश का पालन करने को कहा लेकिन पीडब्लूडी के अधिकारी उपरोक्त सभी आदेशो को रद्दी की टोकरी में डालते हुए सैकड़ो की संख्या में मजदूर लगाकर तेज गति से सड़क बनवा रहे है।
पीड़ित पक्ष के लोग जिला प्रशासन के अधिकारियों के देहरी पर मत्था टेक रहे है जांच में शिकायत कर्ता सही मिल रहे है इसके बाद भी सड़क का बनना लोक निर्माण विभाग के अधिकरी की दादागिरी को स्पष्ट रूप से प्रदर्शित कर रहा है। यहां बता दे कि सिरकोनी से रसैना होते हुए हरिजन बस्ती को जाने वाले इस मार्ग को एक बार हाईकोर्ट के आदेश से हटाया गया था अब पुनः सरकारी धन को इस विवादित मार्ग पर खर्च किया जा रहा है जबकि महज सौ मीटर दूरी से सरकारी चकमार्ग हरिजन बस्ती को जाता है उस पर सड़क बनाने का काम नहीं हो रहा है।
खबर है कि पीड़ित ग्रामीण अब पुनः हाईकोर्ट की शरण में जाने को मजबूर हो गए है।साथ ही पूरे इलाके में पीडब्लूडी के तानाशाही से ग्रामीण जन खासे खफा बताये जा रहे है। जिला प्रशासन के शीर्ष अधिकारी का ध्यान आकृष्ट करते हुए पीडब्लूडी के अधिकरी की तानाशाही पूर्ण कार्यशैली के खिलाफ पीड़ित ग्रामीण जनो के साथ न्याय की अपेक्षा की जा रही है।

Comments

Popular posts from this blog

पुलिस प्रशासन और दीवानी न्यायालय के न्यायिक अधिकारियों के बीच छिड़ी जंग, न्यायाधीश हुए सुरक्षा विहीन

एंटी करप्शन टीम के हत्थे चढ़ा चपरासी ढाई लाख रुपए घूस ले रहा था चपरासी सहित एसीओ के खिलाफ मुकदमा दर्ज

मछलीशहर (सु) संसदीय क्षेत्र से सांसद बनने के लिए दावेदारो की जाने क्या है स्थित, कौन होगा पार्टी के लिए फायदेमंद