रामलला के प्राण-प्रतिष्ठा पर राममय हुआ जनपद सरकारी गैर सरकारी स्तर पर हुए पूजन अर्चन


जौनपुर। अयोध्या में श्रीरामलला के अचल विग्रह की प्राण प्रतिष्ठा के अवसर पर जनपद जौनपुर में भी रामोत्सव का उल्लास छाया रहा है। रामोत्सव की शुरुआत 14 जनवरी को मकर संक्रांति के पावन पर्व  से ही शुरू हो गई थी। 22 जनवरी को चरमोत्कर्ष पर रहा। हर तरफ  मंदिरो, चौराहों पर रामधुन गूंज रही है। जनपदवासियों द्वारा भगवान श्रीराम के स्वागत में घर और आंगन सजाए गए। सोमवार सुबह से ही मंदिरों में धार्मिक अनुष्ठान शुरू हो गए तथा दर्शन पूजन हेतु श्रद्धालुओ का आवागमन शुरू हो गया। जनपद के सभी मंदिरों में भजन कीर्तन आयोजित किये गए।
इसी क्रम में जनपद के समस्त मंदिरो के साथ ही होटल रिवर व्यू के पास स्थित बड़े हनुमान मंदिर के समीप स्थित छोटी काशी में भव्य भजन कीर्तन का कार्यक्रम संपन्न हुआ  जिसमें सदस्य विधानसभा परिषद बृजेश सिंह प्रिंशु, जिलाधिकारी अनुज कुमार झा, पुलिस अधीक्षक डॉ० अजयपाल शर्मा, मुख्य विकास अधिकारी साई तेजा सीलम, अपर जिलाधिकारी वि० एवं रा० राम अक्षयवर चौहान, नगर मजिस्ट्रेट जलराजन चौधरी, उपजिलाधिकारी सदर ऋषभ देशराज पुण्डरीक, अतिरिक्त उपजिलाधिकारी प्रजाक्ता त्रिपाठी, जिला सूचना अधिकारी मनोकामना राय सहित अन्य अधिकारियों की उपस्थिति में श्रद्धालुओ के साथ ही अयोध्या से भगवान श्रीराम के प्राण प्रतिष्ठा समारोह के सजीव प्रसारण को देखा गया और प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी जी, मुख्यमंत्री उ०प्र० योगी आदित्यनाथ जी सहित उपस्थित अन्य सम्मानित जनो के उद्बोधन को भी सुना गया। इससे पूर्व उपस्थित सभी सम्मानित प्रबुद्धजनों ने मंदिर ने दर्शन पूजन भी किया।
समारोह में सूचना विभाग एवं संस्कृति विभाग के पंजीकृत गायक राहुल पाठक और उनकी टीम द्वारा मनमोहक भजन कीर्तन प्रस्तुत किया गया। जिसे सुनकर उपस्थित सभी लोग भावविभोर हो गए। उपजिलाधिकारी सदर ऋषभ देशराज पुंडरीक और अतिरिक्त उपजिलाधिकारी प्रजक्ता त्रिपाठी ने गायक राहुल पाठक और सविता पाठक को अंगवस्त्रम पहनाकर सम्मानित किया और उनके गायन की प्रशंसा भी की। इसी क्रम में जनपद के समस्त मंदिरों में भजन कीर्तन के कार्यक्रम आयोजित किये गए। जनपद में रामोत्सव के अवसर पर सभी सरकारी भवनों को तथा आम जनमानस ने अपने घरों को भी झालरो से सजाया। सहित पूरे जनपद में हर्षोल्लास का माहौल बना रहा। जनपदवासी टेलीविजन पर भी  इसका सजीव प्रसारण देख कर भाव विभोर होते रहे। पूरे दिन जनपद में आध्यात्मिक माहौल बना रहा।
इसी तरह एमएलसी विद्यासागर सोनकर ने अपने आवास पर सुबह नौ बजे से ही सुन्दर काण्ड का पाठ कराया जो दिन में 12 बजे तक चला इसके बाद यहां बड़े पैमाने पर प्रसाद वितरण का कार्यक्रम किया गया। यहां भी बड़ी तादाद में भगवान श्रीराम के भक्त जनो की उपस्थिति रही जो यह स्पष्ट रूप से संकेत दे रही थी कि भगवान की अयोध्या में प्राण प्रतिष्ठा से लोग कितने खुश एवं आह्लादित है।
इस अवसर पर एम एल सी श्री सोनकर ने उपस्थित जनो को सम्बोधित करते हुए कहा कि पांच सौ साल से विस्थापित भगवान श्रीराम को भाजपा के यशस्वी प्रधानमंत्री के प्रयास ने आज 22 जनवरी 24 को पुन: प्राण प्रतिष्ठा के साथ स्थापित करा दिया गया है। आज प्रधानमंत्री जी ने भारत में एक नया इतिहास कायम कर दिया है। आज पूरा देश राम मय हो गया है राम हमारे आदर्श है उनके जीवन से हमे तमाम ऐसी बाते सीखने को मिलती है जो समाज को एक रखने में सहायक सिद्ध होती है। भगवान राम ने अपने जीवन दर्शन में कभी जाति पाति नहीं किया सभी को समान प्यार और स्नेह दिया था। सामाजिक संरचनाओ को स्थापित करने के लिए आज इसकी शख्त जरूरत है।
अखिल भारतीय कायस्थ महासभा के प्रदेश अध्यक्ष डॉ इंद्रसेन श्रीवास्तव व जिला अध्यक्ष नीलमणि श्रीवास्तव के नेतृत्व में पॉलिटेक्निक चौराहा पर भगवान श्री राम जी की मूर्ति के प्राण प्रतिष्ठा कार्यक्रम के शुभ अवसर पर समाज द्वारा प्रसाद वितरण का कार्यक्रम किया गया।इस अवसर पर पहले मूर्ती पर पूजन किया गया उसके बाद भजन कीर्तन करने के पश्चात प्रसाद वितरण का कार्यक्रम 1:00 बजे से शुरू हुआ जो लगातार शाम तक चलता रहा। कार्यक्रम में प्रदेश सचिव श्रीकांत श्रीवास्तव सौरभ श्रीवास्तव सिम्पू श्रीवास्तव नलिनी श्रीवास्तव नवनीश श्रीवास्तव कायस्थ समाज के संरक्षक आनंद मोहन श्रीवास्तव, अमित श्रीवास्तव,अजय श्रीवास्तव आशीष श्रीवास्तव,मुकेश श्रीवास्तव, प्रदीप श्रीवास्तव, प्रदीप अस्थान संजय अस्थाना श्याम रतन श्रीवास्तव,एस सी लाल श्रीवास्तव, नितिन अस्थान रोहित श्रीवास्तव प्रधानाचार्य इंटर कॉलेज कुंवर बहादुर श्रीवास्तव सहित समाज के लोग शामिल हुए कार्यक्रम का संयोजक राज्यमंत्री स्वतंत्र प्रभार के मिडिया प्रभारी मनीष श्रीवास्तव सभासद ने किया था। 

Comments

Popular posts from this blog

पुलिस प्रशासन और दीवानी न्यायालय के न्यायिक अधिकारियों के बीच छिड़ी जंग, न्यायाधीश हुए सुरक्षा विहीन

मछलीशहर (सु) संसदीय क्षेत्र से सांसद बनने के लिए दावेदारो की जाने क्या है स्थित, कौन होगा पार्टी के लिए फायदेमंद