महापुरुषों का जीवन समाजवाद को समर्पित और प्रेरणादायक है - राकेश मौर्य

जौनपुर। ऋषियों मुनियों में श्रेष्ठ महर्षि कश्यप व महाराजा निषादराज की जयंती अल्फस्टीनगंज स्थित ज़िला समाजवादी पार्टी कार्यालय में मनाई गई। इस मौके पर मौजूद वक्ताओं और कार्यकर्ताओं ने उन्हें श्रद्धांजलि अर्पित करते हुए उनके दिखाए गए रास्ते पर चलने का संकल्प भी लिया।
समाजवादी पार्टी कार्यालय पर आयोजित गोष्ठी में दोनों महापुरुषों के चित्र पर माल्यार्पण व पुष्पांजलि अर्पित करते हुए कार्यक्रम की अध्यक्षता कर रहे समाजवादी पार्टी के जिलाध्यक्ष राकेश मौर्य ने कहा कि दोनों ही महापुरुषों का जीवन दर्शन समाज के लिए प्रेरणादायक है,उन्होंने अपने जीवन काल में मानवता के लिए तमाम ऐसे कार्य किए जो मील का पत्थर साबित हुऐ। श्री मौर्य ने कहा की समाजवादी पार्टी ने सदैव ही महापुरुषों के दिखाए रास्ते पर चलने का प्रयास किया है, लेकिन आज सत्ता में बैठे लोग उनके नाम पर जनता का हक अधिकार छीनकर शोषण करने का काम कर रहे है।
पूर्व ज़िला पंचायत अध्यक्ष राजबहादुर यादव, पिछड़ा वर्ग प्रकोष्ठ के जिलाध्यक्ष श्याम नारायण बिंद और प्रदेश सचिव सुशील दुबे ने कहा कि महर्षि कश्यप व निषाद राज दोनों महापुरुषों के बताए हुए रास्ते पर चलकर देश और समाज को आगे बढ़ाया जा सकता है समाजवादी पार्टी हमेशा सभी महापुरुषों का सम्मान करती है सभी जातियों को आगे बढ़ाने का काम किया है महर्षि कश्यप व निषाद राज की प्रेरणा से समाज को आगे बढ़ाया जा सकता है इन महापुरुषों ने समाज को एक नई दिशा दिया उसी रास्ते पर हम सबको चलना है। संचालन कर रहे ज़िला महासचिव आरिफ हबीब ने कहा कि महर्षि कश्यप व निषाद राज का जीवन त्याग और बलिदान का प्रतिमूर्ति था, उन्होंने समाज के लिए अपना सब कुछ न्योछावर कर दिया। गोष्ठी में उपस्थित सपाजनों ने अपनी श्रद्धांजलि अर्पितङ किया।
उक्त अवसर पर प्रदेश सचिव हिसामुद्दीन शाह, राजेश यादव, राष्ट्रीय सचिव यूथ ब्रिगेड गप्पू मौर्य, ज़िला उपाध्यक्ष इरशाद मंसूरी, दीनानाथ सिंह, प्रदीप यादव, मनोज मौर्य, अजय मौर्य अज्जू, वीरेंद्र यादव सदर अध्यक्ष, दशरथ यादव, सभासद दीपक जायसवाल, पूर्व सभासद विकास यादव, धर्मेंद्र सोनकर, अशोक नायक,अमित गौतम,अखिलेश यादव, रविन्द्र यादव, कोमल यादव आदि सपाजन उपस्थित रहे।

Comments

Popular posts from this blog

जौनपुर में चुनावी तापमान बढ़ाने आ रहे है सपा भाजपा और बसपा के ये नेतागण, जाने सभी का कार्यक्रम

अटाला मस्जिद का मुद्दा भी अब पहुंचा न्यायालय की चौखट पर,अटाला माता का मन्दिर बताते हुए परिवाद हुआ दाखिल

मछलीशहर (सु) लोकसभा में सवर्ण मतदाताओ की नाराजगी भाजपा के लिए बनी बड़ी समस्या,क्या होगा परिणाम?