जानिए आखिर दो छात्राओ ने एक साथ गंगा में छलांग लगा कर आत्महत्या क्यों किया, पुलिस जांच पड़ताल में जुटी


मिर्जापुर के चुनार थाना क्षेत्र के पक्का पुल से  दो छात्राओं ने गंगा में छलांग लगा दी। पुल पर आते-जाते राहगीरों ने छात्राओं को छलांग लगाते देख इसकी सूचना पुलिस को दी। मौके पर पहुंची पुलिस को छात्राओं की साइकिल और बैग मिली। बैग में मिले आधार कार्ड और मोबाइल फोन नंबर से पुलिस ने उनके परिजनों को सूचना दी। इसके बाद परिजन मौके पर पहुंचे। पुलिस ने सामान कब्जे में लेकर गोताखोरों को बुलाकर उनकी तलाश शुरू कराई। दोनों के शव एक साथ मिले। दोनों के हाथ काले रंग के दुपट्टे से बंधे थे।
वाराणसी जिले के राजातालाब थाना क्षेत्र के बेलवा गांव निवासी सतीश कुमार की पुत्री गरिमा (15) और सुरेश कुमार की पुत्री जानकी (15) मंगलवार को दोपहर करीब दो बजे एक ही साइकिल से चुनार स्थित पक्का पुल पर पहुंचीं। साइकिल खड़ी कर दोनों ने गंगा में छलांग लगा दी। राहगीरों ने पुलिस को सूचना दी। मौके पर मिले बैग में आधार कार्ड और मोबाइल फोन नंबर मिला। 
इसके बाद पुलिस ने परिजनों को सूचना दी। घटना की सूचना मिलते ही परिजन भागे-भागे पक्का पुल पहुंचे। जहां छात्राओं की साइकिल और बैग देख वे फूट-फूटकर रोने लगे। परिजनों ने बताया कि दोनों सहेलियां मालवीय इंटर कॉलेज शहंशाहपुर वाराणसी में हाईस्कूल में पढ़ती थीं। दोनों छात्राओं ने ऐसा कदम क्यों उठाया, इसके बारे में परिजन कुछ नहीं बता पा रहे थे। घर से स्कूल जाने के लिए कहकर निकली थीं, लेकिन स्कूल नहीं गईं।
पुलिस ने गोताखोरों को बुलाकर छात्राओं की तलाश शुरू कराई। गंगा में कूदीं दोनों किशोरियों के शव शाम करीब सवा छह बजे पक्का पुल से लगभग 200 मीटर आगे मिले। स्थानीय गोताखोर बबई साहनी, गंगा साहनी, धर्मेंद्र साहनी ने कड़ी मशक्कत के बाद शवों को गंगा नदी से निकाला। शव बाहर निकलने पर दोनों के हाथ काले रंग के दुपट्टे से बंधे दिखे। इसे लेकर तरह-तरह की चर्चा हो रही थीं। गरिमा दो भाइयों और तीन बहनों में सबसे छोटी थी। जानकी एक भाई और तीन बहनों में छोटी थी।
चुनार कोतवाल नरेंद्र सिंह ने बताया कि पक्का पुल से दो छात्राओं के गंगा में कूदने की जानकारी मिलने पर गोताखोरों को बुलाकर खोजबीन कराई गई। दोनों के शव बरामद हुए। दोनों के हाथ दुपट्टे से हाथ बंधे थे। दोनों ने क्यों जान दी, इसका पता नहीं चल सका है। जांच की जा रही है।

Comments

Popular posts from this blog

मछलीशहर (सु) लोकसभा में सवर्ण मतदाताओ की नाराजगी भाजपा के लिए बनी बड़ी समस्या,क्या होगा परिणाम?

स्वामी प्रसाद मौर्य के कार्यालय में तोड़फोड़ गोली भी चलने की खबर, पुलिस जांच पड़ताल में जुटी

लोकसभा चुनाव के लिए सायंकाल पांच बजे तक मतदान का प्रतिशत यह रहा