भदेठी कान्ड: कमिश्नर एवं आईजी का दावा घटना को अंजाम देने वाले किसी भी दशा में बक्शे नहीं जायेगे



जौनपुर। जनपद के थाना सरायख्वाजा क्षेत्र स्थित ग्राम भदेठी में बीते रात्रि को साम्प्रदायिक विवाद के चलते हुईं आगजनी एवं मार पीट की घटना निरीक्षण करने आये कमिश्नर दीपक अग्रवाल एवं आईजी वाराणसी विजय सिंह मीणा ने दावा किया कि घटना को अंजाम देने वालों को किसी भी दशा मे बक्शा नहीं जायेगा। साथ ही पीड़ित दलितों को पूरी मदत का आश्वासन दिया है ।
बतादे कि बीते रात्रि के समय मामूली विवाद को लेकर गांव में साम्प्रदायिक स्थित उत्पन्न हो गयी और जम कर फौजदारी हो गयी इसके बाद एक पक्ष ने दूसरे पक्ष के आवासीय मड़हो  को आग के हवाले कर दिया। देखते देखते एक दर्जन के आस पास मड़हे जल कर राख हो गये। कई मवेशी बकरियां गाय आदि जल कर मर गये।   घटना की सूचना पर स्थानीय पुलिस के साथ जिला प्रशासन के अधिकारी एवं पुलिस विभाग के अधिकारी मौके पर गये और दलितों को आश्वस्त किये कि अपराध कारित करने वालों के खिलाफ कार्यवाही होगी।
पुलिस इलाका ने  दलित पक्ष से राजेश गौतम की तहरीर पर 57 के खिलाफ नाम जद एवं 27 अज्ञात के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर गिरफ्तारी शुरू किया और गांव के ग्राम प्रधान हिटलर सहित 38 लोगों को गिरफ्तार कर जेल रवाना कर दिया है। हलांकि जिला प्रशासन ने पीड़ित दलितों को  पांच हजार रुपये के साथ राशन का पैकेट दिया है। 


इस घटना के बाद प्रशासन को दलितों के साथ खड़ा देखकर मुस्लिम पक्ष के लोग गांव छोड़ कर पलायन कर गये है गांव की मुस्लिम बस्ती में बृद्ध महिलायें तो है लेकिन पुरुष युवक महिला सब घरों से फरार हो गये है मुस्लिम बस्ती में सन्नाटा पसरा हुआ है। खबर यह भी है कि मार पीट की इस घटना में दलितोंने भी जम कर मार पीट किया है मुस्लिम भी घायल है लेकिन अब मड़हा एवं मवेशी जलने से दलितो का पक्ष कम अपराधी माना जा रहा है। सरकारी तंत्र भी इनके साथ खड़ा हो गया है।
इस घटना से गांव में तनाव तो है लेकिन प्रशासन के हस्तक्षेप से शान्ति कायम है। गांव में पुलिस का पहरा लगा हुआ है।

Comments

Popular posts from this blog

पुलिस प्रशासन और दीवानी न्यायालय के न्यायिक अधिकारियों के बीच छिड़ी जंग, न्यायाधीश हुए सुरक्षा विहीन

मछलीशहर (सु) संसदीय क्षेत्र से सांसद बनने के लिए दावेदारो की जाने क्या है स्थित, कौन होगा पार्टी के लिए फायदेमंद