क्या सचमुच जिलाधिकारी के हिदायत का असर कार्यदाई संस्था पर है,आखिर निर्माण कार्य में देरी क्यों ?


जौनपुर। जनपद में निर्माणाधीन मेडिकल कॉलेज के लोकार्पण की चर्चा के बीच आज फिर जिलाधिकारी मनीष कुमार वर्मा अपने लाव लश्कर के साथ निर्माण कार्य का निरीक्षण करने कार्य स्थल पर पहुंचे और कार्यदाई संस्था को शख्त निर्देश दिया कि मजदूरों की संख्या बढ़ाकर गुणवत्तापूर्ण ढंग से जल्द से जल्द कार्य पूरा कराया जाए। जैसा कि सरकारी स्तर पर जारी बुलेटिन से स्पष्ट संकेत मिल रहा है।
इससे इतना तो साफ है कि मेडिकल कॉलेज अभी पूरी तरह से बनकर आम जनता के लिए तैयार नहीं हो सका है। हलांकि जिलाधिकारी ने समयबद्धता के साथ पूर्ण कराये जाने का निर्देश दिया,जिससे कॉलेज में पठन-पाठन का कार्य शुरू किया जा सके और जनपद के लोगो को मेडिकल की पढ़ाई और अन्य संबंधित कार्यों के लिए किसी अन्य जनपद या राज्य में  जाने की आवश्कता ना पड़े। जिलाधिकारी ने संबंधित ठेकेदार को सख्त हिदायत देते हुए निर्देशित किया  कि मटेरियल की गुणवत्ता में किसी भी प्रकार की लापरवाही ने बरतें।


इस अवसर पर अपरजिलाधिकरी भू राजस्व कुमार द्विवेदी, ई. ओ.नगर पालिका संतोष मिश्रा,मेडिकल कॉलेज के कर्मचारीगण, निर्माण निगम के सहायक अभियंता सहित अन्य लोग उपस्थित थे। यहां बता दे कि लगभग हर सप्ताह एक अफवाह की खबर वायरल होती है कि अब अमुक तारीख को लोकार्पण होने वाला है लेकिन सरकारी गतिविधियां संकेत करती है कि मेडिकल कॉलेज का काम अभी अधूरा है। प्रशासन भले ही कार्यदाई संस्था को काम जल्द पूरा करने की हिदायत देता है लेकिन उसके सेहत पर कोई असर नहीं है क्योंकि उपर से कार्यदाई संस्था को संरक्षण की खबर मिल रही है। 

टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

टीईटी साल्वर गिरोह का हुआ भन्डाफोड़, दो गिरफ्तार,एक जौनपुर दूसरा सोनभद्र का निकला

जौनपुर में तैनात दुष्कर्म के आरोपी पुलिस इन्सपेक्टर की सेवा हुई समाप्त, जानें क्या है घटना क्रम

प्रेम प्रपंच में युवकों की जमकर पिटाई, प्रेमी की इलाज के दौरान मौत तो दूसरा साथी गंभीर