शैक्षिक अलख जगाने के लिए बनी लायब्रेरी पहल के रास्ते हेतु लगा खड़न्जा आखिर उखाड़ने का कारण क्या ?


जौनपुर। जनपद मुख्यालय से लगभग 20 किमी दूर नौपेड़वां बाजार के पास स्थित ग्राम बेलापार में ग्रामीण क्षेत्र के बच्चो में शैक्षिक अलख जगाने के लिए स्थापित की गयी पहल डिजिटल लायब्रेरी के लिए बच्चो के आवागमन हेतु जिला पंचायत से दो तीन वर्ष पूर्व बनायी गयी ईट की स्वेलिग को आज अचानक उखाड़ा जाना पूरे इलाके में चर्चा का बिषय बन गया है। ग्रामीण जन इसे पूर्वाग्रह से प्रेरित कार्यवाही बता रहे है। हलांकि इसके बाबत सच जानने के लिए जिला पंचायत के अपर मुख्य अधिकारी को उनके नम्बर पर काल किया गया लेकिन मोबाइल नाट रिचेवल रहा। 
बतादे ग्रामीण क्षेत्र में स्थापित आधुनिक सुविधाओ से लैश इस लायब्रेरी में बड़ी संख्या छात्र छात्रायें निःशुल्क शैक्षिक ज्ञान प्राप्त कर रहे है। मुख्य मार्ग से लगभग सौ मीटर तक छात्र छात्राओ के आवागमन की सुविधा हेतु पूर्व जिला पंचायत अध्यक्ष राज बहादुर यादव ने खड़न्जा की स्वीकृत प्रदान करते हुए लगभग दो तीन वर्ष पूर्व लगवाया था। आज अचानक क्षेत्र के जिला पंचायत सदस्य के साथ मजदूर पहुंच कर खड़न्जा को उखाड़ दिये। 
ग्रामीण जनों से बात करने पर बताया गया कि किसी व्यक्ति द्वारा सार्वजनिक जनहित की इस संस्था के लिए बनायी गयी व्यवस्था के खिलाफ शिकायत की गयी और विभाग ने कार्यवाही कर दिया। ग्रामीण जनों एक बात और कहा कि क्षेत्र में बड़ी संख्या में यादव समाज और पिछड़े वर्ग के लोग रहते है जिनका लगाव राजनैतिक रूप से समाजवादी पार्टी के साथ रहता है इसीलिए यहां पर मात्र मानक के विपरीत होने का बहाना बता कर राजनैतिक विद्वेष में मन्दिर और लायब्रेरी के लिए लागये गये खड़न्जा को उखाड़ा गया है। जिला पंचायत की इस कार्रवाई से ग्रामीण जनों में खासी नराजगी होने का स्पष्ट संकेत मिला है। 

टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

प्रातः काल तड़तड़ाई गोलियां, बदमाशों ने अखिलेश यादव की कर दिया हत्या,ग्रामीण जनों में घटना को लेकर गुस्सा

सीएम योगी का चुनावी वादा बिजली बिल बकाये को लेकर दिया यह आदेश

आज से लगातार 08 दिनों तक बैंक रहेंगे बन्द जानें इस माह में कितने दिवस होगे काम काज