कूट रचना कर छात्रवृत्ति और विधवा पेन्शन की धनराशि रूपया 62 लाख हड़पने वाला लेखाकार गिरफ्तार गया जेल


यूपी के आजमगढ़ में  कूटरचना कर सरकारी धन का गबन करने वाले आरोपी एक बैंक के लेखाकार को  सिधारी थाना पुलिस ने उसके नरौली स्थित घर से गिरफ्तार किया। आरोपी ने छात्रवृत्ति व विधवा पेंशन के मद का लगभग 62 लाख रुपये हड़प लिया है। पकड़ा गया आरोपी यूबीआई चंडेश्वर शाखा का लेखाकार है। ईओडब्ल्यू प्रकरण की जांच कर रही है और विवेचना के दौरान आरोपी का नाम प्रकाश में आया था।
आजमगढ़ जिले में वर्ष  2007-2008 से 2010 व 2011 तक की अवधि में जिला समाज कल्याण अधिकारी व जिला प्रोबेशन अधिकारी, जिला अल्पसंख्यक कल्याण अधिकारी तथा जिला पिछड़ा वर्ग कल्याण अधिकारी  के कार्यालय में नियुक्त अधिकारियों एवं कर्मचारियों द्वारा अनाधिकृत रूप से डीडी पर फ्लूड इंक लगाकर कूटरचना, पृष्ठांकन कर अप्रत्याशित रूप से पत्रों को बिना कार्यालय के डिस्पैच रजिस्टर मेंं पंजीयन किए  प्राचार्य श्री बलिराम, बेचू इंटर कालेज कौतुकपुर व वीरमपुर के नाम से यूबीआई चंडेश्वर शाखा में खुले खाते में डालकर हजम कर लिया गया।
उक्त धनराशि लगभग 62 लाख थी। जांच में प्रकरण की जानकारी हुई तो तत्कालीन जिला समाज कल्याण अधिकारी प्रमोद कुमार सिंह ने सिधारी थाने में मुकदमा पंजीकृत कराया। शासन के निर्देश पर इस प्रकरण की विवेचना ईओडब्ल्यू वाराणसी को दी गई।
विवेचना के दौरान श्रीपति राम लेखाकार यूबीआई चंडेश्वर का नाम प्रकाश में आया। इसके बाद से पुलिस टीम उसकी तलाश में जुट गई। मुखबिर की सूचना पर आरोपी लेखाकार श्रीपति राम को पुलिस ने उसके नरौली मुहल्ला स्थित आवास से गिरफ्तार कर लिया। 


टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

प्रातः काल तड़तड़ाई गोलियां, बदमाशों ने अखिलेश यादव की कर दिया हत्या,ग्रामीण जनों में घटना को लेकर गुस्सा

आज से लगातार 08 दिनों तक बैंक रहेंगे बन्द जानें इस माह में कितने दिवस होगे काम काज

यूपी के गांव में जमीनी विवाद खत्म करने के सरकार ने बनायी यह योजना,नहीं होगी मुकदमें की नौबत