आईजीआरएस की समीक्षा बैठक में डीएम ने अधिकारियों को दिया यह आदेश,BSA को जानें क्यों लगाई फटाफट


जौनपुर । जिलाधिकारी मनीष कुमार वर्मा की अध्यक्षता में कलेक्ट्रेट सभागार में आईजीआरएस के सम्बंध में अधिकारियों के साथ बैठक की गयी। जिलाधिकारी ने सभी अधिकारियों को निर्देश दिया कि शिकायत डिफॉल्टर लिस्ट में न जाने पाये और उसका निस्तारण गुणवत्तापूर्वक अवश्य कराए।
जिलाधिकारी ने अधिशासी अभियंता सिंचाई एवं जल संसाधन, अधिशासी अभियंता नलकूप यांत्रिक, अधीक्षण अभियंता विद्युत प्रथम, द्वितीय, तृतीय चतुर्थ, शाहगंज, मछलीशहर, अधिशासी अभियंता प्रांतीय खंड, निर्माण खंड, निर्माण खंड द्वितीय, अपर मुख्य अधिकारी जिला पंचायत, अधिशासी अभियंता शारदा सहायक खंड 36 सिंचाई, उपनिदेशक कृषि, जिला खाद्य एवं विपणन अधिकारी, उप संचालक चकबंदी, उपायुक्त वाणिज्य कर विभाग, अभिहित अधिकारी खाद्य सुरक्षा एवं औषधि प्रशासन, औषधि निरीक्षक खाद सुरक्षा, जिला अल्पसंख्यक कल्याण अधिकारी, उद्यान अधिकारी, जिला आबकारी अधिकारी, उपायुक्त मनरेगा, जिला कमांडेंट होमगार्ड, कार्यक्रम अधिकारी, जिला कृषि रक्षा अधिकारी, जिला विकलांग कल्याण अधिकारी, जिला पंचायत राज अधिकारी, जिला पिछड़ा वर्ग कल्याण अधिकारी, जिला पूर्ति अधिकारी, प्रोबेशन अधिकारी, जिला युवा कल्याण अधिकारी, जिला विद्यालय निरीक्षक, सेवायोजन अधिकारी, बेसिक शिक्षा अधिकारी का शिकायत डिफॉल्टर लिस्ट में होने पर नाराजगी व्यक्त किया और कहा कि निस्तारण न होने पर प्रतिकूल प्रविष्टि दी जाए। उन्होंने सभी अधिकारियों से एक-एक कर शिकायत के संबंध में जानकारी प्राप्त की और निर्देश दिया कि शिकायतकर्ता से बात करे और उनकी समस्या का गुणवत्तापूर्ण निस्तारण कराए।
 इस अवसर पर अपर जिलाधिकारी भू-राजस्व रजनीश राय, उप जिलाधिकारी केराकत राकेश कुमार, जिला पूर्ति अधिकारी संतोष विक्रम शाही, जिला पंचायत राज अधिकारी सहित अन्य अधिकारीगण उपस्थित रहे।

टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

मेदांता में इलाज करा रहे इस आईएएस अधिकारी का हुआ निधन

थाना चन्दवक की वसूली लिस्ट वायरल होने पर एक बार फिर सुर्खियों में पुलिस जांच शुरू

जौनपुर में फिर तड़तड़ायी गोलियां एक युवक गम्भीर रूप से घायल बदमाश फरार, पुलिस अंधेरे में चला रही छानबीन की तीर