अमृत योग सप्ताह कार्यक्रम के तहत मदरसे में धर्मगरुओं ने किया योग


जौनपुर । अमृत योग सप्ताह के अंतर्गत मदरसा जामिया इमाम जाफर सादिक़ बेगमगंज में योग शिविर लगाया गया। जहाँ मौलाना व मदरसे में शिक्षा ग्रहण कर रहे छात्रों व क्षेत्रीय लोगो ने योगाभ्यास किया, 
इस अवसर पर धर्मगुरु मौलाना सैय्यद सफदर हुसैन ज़ैदी ने कहा कि योग एक कसरत के रूप में बेहतरीन चीज है। योग स्वस्थ और खुश रहने की विधि है। इस्लाम में बेहतर स्वास्थ्य के लिए योग व्यायाम का बहुत महत्व है, योग से शरीर और मन तरोताजा होता है और खोई शक्ति वापस प्राप्त होती है, तनाव से मुक्ति मिलती व एकाग्रता बढ़ती है, मौलाना सफदर हुसैन ने भारत सरकार की सराहना करते हुए कहा कि योग को अन्तर्राष्ट्रीय दिवस घोषित कराते हुए सभी को स्वस्थ्य रहने के लिए योग करने के प्रति प्रेरित व प्रोत्साहित करना एक बेहतरीन क़दम है, ।उन्होंने कहा कि योग को दिनचर्या में शामिल करें क्योंकि योगासन इंसान के शरीर और मन को स्वस्थ एवं संतुलित बनाता है। क्योंकि वर्तमान में लोग अत्यधिक व्यस्तता, तनाव, अव्यवस्थित जीवनचर्या और मन की व्यग्रता से ग्रसित हैं। योग व्यायाम मनुष्य को आंतरिक एवं बाह्य रूप से स्वस्थ, सुडौल और सुंदर बनाता है। 
 मौलाना सैय्यद हैदर मेहंदी ने कहा कि 8 वां योग दिवस "मानवता के लिए योग" थीम पर मनाया जा रहा है जो कि लोगों में एकता की भावना को बढ़ाने के साथ ही दुनिया भर के लोगों के बीच लचीलापन पैदा करेगा। 
 इस अवसर पर ज़िला मुख्यालय बस्ती से आए हुए मौलाना सैय्यद हैदर मेहदी रिज़वी बस्तवी मौलाना दिलशाद, मौलाना आसिफ रजा बाक़िर खान, मौलाना आसिफ़ अब्बास, मौलाना मोहम्मद मोहसिन, मौलाना सैय्यद सैफ़ आब्दी, सै. मोहम्मद मुस्तफा, आरिफ़ हुसैनी,  मौलाना रज़ा अब्बास खान, मौलाना मेराज खान, सैय्यद आले हसन आदि उपस्थित रहें ।

टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

जौनपुर का बेटा बना यूनिवर्सिटी आफ टोक्यो जापान में प्रोफ़ेसर, लगा बधाईयों का तांता

इलाहाबाद हाईकोर्ट का ग्रामसभा की जमीन को लेकर डीएम जौनपुर को जानें क्या दिया आदेश

सिकरारा क्षेत्र से गायब हुई दो सगी बहने लखनऊ से हुई बरामद, जानें क्या है कहांनी