अग्निपथ पथ योजना युवाओ के साथ धोखा, सेना में ले जानें के बजाय जेल भेज रही है सरकार- सांसद श्याम सिंह यादव


जौनपुर। अग्निपथ योजना के खिलाफ आन्दोलन करने वाले युवाओ और छात्रों पर अपने हक की लड़ाई लड़ने के चलते पुलिस द्वारा कसे जा रहे कानूनी शिकंजा और अपराधिक मुकदमें की कार्यवाई को लेकर जनपद जौनपुर के सांसद श्याम सिंह यादव ने भारत सरकार को कटघरे में खड़ा करते हुए कहा कि केन्द्र की सरकार विगत आठ वर्षो में बेरोजगार युवाओ को नौकरी नहीं दे सकी लेकिन एक गलत योजना लाकर युवाओ को उकसा कर जेल भेजने की रणनीति जरूर तैयार कर दी है।
श्री यादव ने कहा कि सेना में चार साल की नौकरी के नाम पर देश के उन युवाओ के साथ धोखा किया गया है जो देश के सीमा की सुरक्षा के लिए अपनी सेवाएं देने हेतु दिन रात अथक परिश्रम कर रहे थे। उन्होंने कहा कि सेना सेवा देने वाले कम से कम दो साल तो सिखते है इसके बाद ही वह सीमाओ की सुरक्षा करने योग्य बनते है लेकिन केन्द्र की वर्तमान सरकार तो चार साल में इन युवाओ को नौकरी से बाहर कर फिर बेरोजगार करते हुए अपने पूंजीपती मित्रो के हवाले करने का शातिराना षड्यंत्र कर रही है। सरकार खुद ही कह रही है कि चार साल बाद सेना का रिटायर युवक प्राइवेट गार्ड की नौकरी कर सकता है। देश के युवाओ के लिए सरकार का निर्णय कितना दुखद है सहज अनुमान लगाया जा सकता है। 
जब सरकार के गलत निर्णय के खिलाफ युवा आन्दोलन की राह पर निकले तो उनके आन्दोलन को दबाने के लिए सरकार ने अपने सरकारी तंत्र पुलिस और कानून का इस्तेमाल शुरू कर दिया है। जो युवक देशा की सेवा करना चाहता था उसे अब सरकार की पुलिस जेल की सलाखों में कैद करने के लिए मुकदमें ठोंक रही है। सांसद श्री यादव ने कहा सरकार देश को कहां और किस दिशा में ले जा रही है यह एक यक्ष प्रश्न है। श्री यादव ने भारत सरकार के जिम्मेदार लोंगो से मांग किया कि देश के नौजवानो के साथ घिनौना खेल करना बन्द करे ताकि लोकतंत्र की मर्यादा कायम रह सके।

टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

जौनपुर का बेटा बना यूनिवर्सिटी आफ टोक्यो जापान में प्रोफ़ेसर, लगा बधाईयों का तांता

इलाहाबाद हाईकोर्ट का ग्रामसभा की जमीन को लेकर डीएम जौनपुर को जानें क्या दिया आदेश

यूपी में फिर 11 आईएएस अधिकारियों का तबादला, देखे सूची