पुलिस पर पीड़ित महिला का आरोप, पेट में पल रहे दो माह के भ्रुण को नष्ट करने हेतु खिलायी दवा वीडियो वायरल



जौनपुर। जनपद के थाना मड़ियाहूं क्षेत्र स्थित ग्राम कैलावर की निवासिनी नीतू सरोज पुत्री शिव कुमार सरोज का थाना मड़ियाहूँ की पुलिस की महिला सिपाही पर दवा खिलाकर उसका दो माह का गर्भ गिराने का वीडियो वायरल हो रहा है। इसे लेकर जब हंगामा मचा तो अपर पुलिस अधीक्षक ग्रामीण ने मामले की जांच कराकर कार्रवाई का आश्वासन देकर मामले को शान्त कराया है। यहां पर सवाल यह है कि क्या सचमुच पुलिस वायरल वीडियो के मामले की निष्पक्ष जांच सुनिश्चित कर जिम्मेदार सभी के खिलाफ कार्यवाई कर सकेगी या फिर जांच के नाम पर लीपा पोती हो जायेगी। यह तो जांच के बाद ही स्पष्ट हो सकेगा। 


यहां बता दे कि कैलावर निवासिनी नीतू सरोज ने पहले थाना मड़ियाहूँ में एक प्रार्थना पत्र दिया कि वह नदीरामपुर निवासी आशीष जायसवाल से प्रेम करती थी उसके साथ घर से भाग कर कोर्ट में शादी कर ली शादी के बाद वह उसे लेकर दिल्ली गया वहां से दोनो मुम्बई गये मुम्बई में उसका पति उससे देह व्यापार का धन्धा कराने लगा विरोध करने पर मारता पीटता था। पति के कृत्य से आजिज आ कर अपने माता पिता को घटना के बाबत जानकारी दिया तो परिजन मुम्बई जा कर उसे जौनपुर स्थित कैलावर गांव लाये और थाना मड़ियाहूं पहुंच कर घटना के बाबत तहरीर दिया। 


नीतू का आरोप है कि पुलिस उसे चार दिन से थाने में बैठाने के साथ ही महिला सिपाही के जरिए दवा खिलाकर कर उसके पेट में पल रहे दो माह के भ्रुण को नष्ट कराने का प्रयास किया गया है। इसकी खबर परिजनो को लगते ही बड़ी तादाद में ग्रामीण और परिजन थाने पर बवाल मचा दिये। हंगामें की खबर पर एएसपी ग्रामीण शैलेंद्र सिंह थाना पर पहुंचे और नीतू के आरोपो की जांच कराने का वादा कर मामला शान्त करा दिया है।

टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

हर रात एक छात्रा को बंगले पर भेजो'SDM पर महिला हॉस्टल की अधीक्षीका ने लगाया 'गंदी डिमांड का आरोप; अधिकारी ने दी सफाई

यूपी कैबिनेट की बैठक में जौनपुर की इस नगर पालिका के विस्तार का प्रस्ताव स्वीकृत

जफराबाद विधायक का खतरे से बाहर डाॅ गणेश सेठ का सफल प्रयास, लगा पेस मेकर