जनता पूंछती है सवाल: आखिर जर्जर हो चुके शास्त्री पुल की कब होगी मरम्मत


जौनपुर। नगर क्षेत्र स्थित गोमती नदी पर बने शास्त्री पुल की दीवार टूटकर गिर चुकी हैं और वहीं पर इसका पाथ-वे भी जर्जर होकर गिरने की स्थिति में है। ऐसे में यहां भी गुजरात के मोरबी जैसा बड़ा हादसा हो सकता है। पुल की मरम्मत के लिए लंबे समय से पत्राचार चल रहा है, लेकिन विभाग को शायद किसी बड़े हादसे का इंतजार हो रहा रहा है। इसके लिए जफराबाद विधायक जगदीश नारायण राय विधानसभा में आवाज भी उठा चुके हैं। इसके अलावा उन्होंने प्रमुख सचिव व जिलाधिकारी से भी मरम्मत की मांग की है। सेतु निगम लखनऊ की तरफ से सर्वे कर 5.29 करोड़ का प्रस्ताव बनाकर शासन स्तर पर भेज तो दिया गया लेकिन बजट आज तक नहीं दिया गया।
जफराबाद विधायक जगदीश नारायण राय ने बताया कि अखबारों में माध्यम से मुझे ज्ञात हुआ कि उत्तर प्रदेश के जौनपुर, गाजीपुर, प्रयागराज समेत प्रदेश के विभिन्न जिलों में कुल 29 पुल जर्जर हैं। किसी पुल की सरिया निकल चुकी हैं, तो कहीं रेलिंग टूटी हैं। ऐसे में इसको संज्ञान में लेकर विधानसभा में इसकी मरम्मत व बजट की मांग को उठाया था। साथ ही जिलाधिकारी, सेतु निगम से पूछा गया तो इसके एवज में यह जानकारी दी गई कि 5.29 करोड़ का प्रस्ताव बनाकर भेजा गया है, इसकी मंजूरी मिलने का इंतजार है। लगता है भाजपा सरकार के जिम्मेदार किसी बड़े हादसे का इंतजार कर रहे है।
उप परियोजना प्रबंधक सेतु जेपी गुप्ता कहते है कि पुल के एक्शपेंशन ज्वाइंट बदले जाएंगे, ड्रेनेज स्पाउट सहीं किए जाएंगे, बियरिंग की ग्रीसिंग आयलिंग, जंग लगी सरिया में कंक्रीट भरेंगे, पुल की सरफेस सही की जाएगी।
शास्त्री पुल की मरम्मत के लिए सेतु निगम लखनऊ की इकाई ने सर्वे किया है, इसके लिए 5.29 करोड़ का प्रस्ताव बनाकर शासन को भेजा गया है। अभी तक बजट ही नहीं मिल सका है। बजट मिलने के बाद पीडब्ल्यूडी इसकी मरम्मत कराएगा।

टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

जानिए मुर्गा काटने के दुकान से कैसे मिला गुड्डू की लाश,पुलिस कर रही है जांच

बिजली विभाग बड़े बकायेदारो से बिल की वसूली कराये - डीएम जौनपुर

मंत्री गिरीश चन्द यादव का अखिलेश यादव पर जबरदस्त पलटवार,दे दिया केन्द्रीय मंत्री बनाने का आफर