जानिए चक्का जाम करने वाले ग्रामीणो ने आखिर पुलिस पर क्यों किया पथराव


जौनपुर। जौनपुर-आजमगढ़ मार्ग पर प्रसाद तिराहे के पास सड़क हादसे में एक ही गांव के दो युवकों की मौत से आक्रोशित ग्रामीणो ने रविवार की सुबह लखनऊ-वाराणसी एन एच पर कुल्हनामऊ गांव के समीप ग्रामीणों ने जाम लगा दिया। जाम हटाने पहुंची पुलिस टीम पर ग्रामीणों ने पथराव किया। घटना में पांच पुलिसकर्मी घायल हो गए। पुलिस वाहन का शीशा भी टूट गया। करीब दो घंटे के बाद लाठी भांजकर पुलिस ने जाम समाप्त कराया।
जनपद के बक्शा थाना क्षेत्र के कुल्हनामऊ गांव निवासी शिवजीत (30) पुत्र लालचंद तथा सुजीत (26) पुत्र सुरेश गौराबादशाहपुर किसी शादी समारोह में शामिल होकर बाइक से वापस घर लौट रहे थे। शनिवार देर रात एक ट्रक में उनकी बाइक टकरा गई। हादसे में बाइक सवार दोनों युवकों की मौत हो गई। चालक और खलासी ट्रक छोड़कर फरार हो गए।
रविवार सुबह हादसे की सूचना मिलते ही मृतकों के परिजनों और ग्रामीणों ने लखनऊ-वाराणसी हाईवे को जाम कर दिया। सूचना के बाद पुलिस जाम हटाने पहुंची। यह बात ग्रामीणों को नागवार गुजरी और उन्होंने पुलिस टीम पर पथराव कर दिया। एसआई अजय सिंह, हंसराज यादव, मुख्य आरक्षी नंदलाल यादव, उदयप्रताप, बालमुकुंद घायल हो गए।
बवाल की सूचना पर आननफानन सीओ सदर एसपी उपाध्याय, थानाध्यक्ष त्रिवेणी सिंह, थानाध्यक्ष सिकरारा और थानाध्यक्ष तेजीबाजार पुलिस फोर्स के साथ मौके पर पहुंचे। पुलिस ने लाठी भांज कर भीड़ को इधर-उधर किया। करीब नौ बजे तक जाम रहा। सीओ एसपी उपाध्याय ने कहा कि दो युवकों की मौत को लेकर कुल्हनामऊ के ग्रामीणों ने जाम लगाया था। पुलिस टीम पर पथराव में कुछ पुलिसकर्मी घायल हो गए हैं। इस मामले में मुकदमा दर्ज कर अन्य विधिक कार्रवाई की जाएगी।

Comments

Popular posts from this blog

जौनपुर में चुनावी तापमान बढ़ाने आ रहे है सपा भाजपा और बसपा के ये नेतागण, जाने सभी का कार्यक्रम

अटाला मस्जिद का मुद्दा भी अब पहुंचा न्यायालय की चौखट पर,अटाला माता का मन्दिर बताते हुए परिवाद हुआ दाखिल

मछलीशहर (सु) लोकसभा में सवर्ण मतदाताओ की नाराजगी भाजपा के लिए बनी बड़ी समस्या,क्या होगा परिणाम?